पोस्ट ऑफिस नेशनल सेविंग्स सर्टिफिकेट (एन एस सी) Post Office NSC 2022

पोस्ट ऑफिस नेशनल सेविंग्स सर्टिफिकेट (एन एस सी) National Savings Certificate (NSC) | Post Office NSC 2022

Post Office NSC 2022 :- आप लोगों ने इंडिया पोस्ट का नाम तो सुना ही होगा , इंडिया पोस्ट देश की डाक श्रृंखला को नियंत्रित करती है। लेकिन डाक श्रृंखला को नियंत्रित करने के साथ ही इंडिया पोस्ट निवेशकों के लिए बैंकों की ही तरह काफी सारी Deposit Saving Scheme भी चलाती है। जिन्हें हम पोस्ट ऑफिस सेविंग स्कीम या फिर डाकघर बचत योजना के नाम से जानते हैं।

Post Office NSC 2022

डाकघर बचत खाता 2022 

नेशनल सेविंग्स सर्टिफिकेट (NSC) एक टैक्स बचत निवेश है जिसे एक भारतीय निवासी द्वारा किसी भी डाकघर से खरीदा जा सकता है। भारत सरकार द्वारा समर्थित निवेश होने के नाते, इसका मुनाफ़ा निश्चित होता है और जोखिम कम होता है और इसलिए आमतौर पर निवेश में जोखिम ना चाहने वाले निवेशक NSC को काफ़ी पसंद करते हैं।

डाकघर बचत योजना में निवेश करके निवेशकों को उच्च ब्याज दर के साथ साथ कर लाभ भी प्रदान किया जाता है। कर में छूट  इनकम टैक्स एक्ट के सेक्शन 80 C के अंतर्गत दी जाती है। डाकघर कई सारी बचत योजनाएं चलाता है। जैसे कि पब्लिक प्रोविडेंट फंड, नेशनल सेविंग सर्टिफिकेट आदि। इन सभी योजनाओं के बारे में आप हमारी Official Website से प्राप्त कर सकते है |

पोस्ट ऑफिस नेशनल सेविंग्स सर्टिफिकेट क्या है ? Post Office NSC 2022

What is Post Office National Savings Certificate ? :- छोटे निवेशकों के लिए पोस्ट ऑफिस की योजनाएं हर प्रकार से बेहतर मानी जाती है. पोस्ट ऑफिस की किसी भी तरह की स्कीम में निवेश करने पर आपका पैसा पूरी तरह सुरक्षित रहता है |

पोस्ट ऑफिस की इस स्कीम का नाम है National Saving Certificate (NSC) | यह Short Term Investment Plan है जिसकी मैच्योरिटी 5 साल की है | जिस दिन इस अकाउंट में पैसे जमा होते हैं, उसी तारीख से 5 साल को कैलकुलेट किया जाता है | वर्तमान में इस पर 6.8 फीसदी का रिटर्न मिल रहा है | ब्याज की गणना एक वर्ष पूरा होने के आधार पर होती है और भुगतान मैच्योरिटी पर किया जाता है | सभी Small Saving Schemes की ब्याज दरें हर तीन महीने में अपडेट होती है | Post Office NSC 2022

डाकघर फिक्सड डिपॉजिट अकाउंट

पोस्ट ऑफिस नेशनल सेविंग्स सर्टिफिकेट के लिए पात्रता मापदंड

Eligibility Criteria for Post Office National Savings Certificate :- राष्ट्रीय बचत पत्र में निवेश करने के लिए निम्न पात्रता आवश्यक हैं:-

  • सभी भारतीय निवासी National Savings Certificate में निवेश कर सकते हैं
  • 10 वर्ष की आयु से ऊपर का नाबालिग।
  • नाबालिग की ओर से या मानसिक रूप से विक्षिप्त व्यक्ति की ओर से एक अभिभावक |
  •  गैर-भारतीय नागरिक (NRI) नए NSC नहीं खरीद सकते हैं।
  • कुछ संवेदनशील स्तिथि जैसे की , यदि किसी निवासी भारतीय ने NSC ख़रीदा है और मैच्योरिटी से पहले गैर-भारतीय नागरिक हो जाता है तब ऐसे NSC को मैच्योरिटी तक रखा जा सकता है |
  • Hindu Undivided Family (HUF) के कर्ता केवल अपने नाम से NSC में निवेश कर सकते हैं |

पोस्ट ऑफिस नेशनल सेविंग्स सर्टिफिकेट के लिए दस्तावेज

Documents for Post Office National Savings Certificate :- निम्न दस्तावेजों के द्वारा किसी भी भारतीय डाकघर में जमा करके NSC खरीद सकते है :-

  • सही ढंग से भरा हुआ NSC आवेदन फॉर्म
  • वर्तमान की फोटो
  • पहचान प्रमाण (ID Proof) :- आधार कार्ड ,पैन कार्ड इत्यादि
  • पता प्रमाण (Address Proof) :– आधार कार्ड , मतदाता पहचान पत्र , बिजली/पानी बिल  आदि

डाकघर मासिक आय स्कीम 2022

पोस्ट ऑफिस नेशनल सेविंग्स सर्टिफिकेट के लिए ब्याज दर

Interest Rate for Post Office National Savings Certificate :- पोस्ट ऑफिस की इस स्कीम में वर्तमान में 6.8 फीसदी का रिटर्न मिल रहा है | इस स्कीम में ब्याज की गणना वार्षिक रूप में होती है और पूर्ण भुगतान मैच्योरिटी पर किया जाता है | इस स्कीम की ब्याज दर निम्न प्रकार से है :-

  • 6.8% चक्रवृद्धि दर जो परिपक्वता (Maturity) पर देय है।
  • 5 वर्ष में रु.1000/- बढकर 1389.49 हो जाते है ।

01-04-2020 से National Savings Certificate के लिए ब्याज दर निम्न प्रकार से है :-

समय अवधि  ब्याज दर 
वित्त वर्ष 2018-19 की पहली तिमाही में 7.6%
वित्त वर्ष 2018-19 की दूसरी तिमाही में 7.6%
वित्त वर्ष 2018-19 की तीसरी तिमाही में 8.0%
वित्त वर्ष 2018-19 की चौथी तिमाही में 8.0%
वित्त वर्ष 2019-20 की पहली तिमाही में 8.0%
वित्त वर्ष 2019-20 की दूसरी तिमाही में
वित्त वर्ष 2019-20 की तीसरी तिमाही में
7.9%
7.9%

सर्व शिक्षा अभियान 2022

पोस्ट ऑफिस नेशनल सेविंग्स सर्टिफिकेट की विशेषताएं या लाभ

Features of Post Office National Savings Certificate :- पहले यह दो अवधि में उपलब्ध था – 5 वर्ष और 10 वर्ष लेकिन इसमें से 10 वर्षीय NSC को समाप्त कर दिया गया है , इसलिए अब केवल 5 वर्षों की अवधि वाला नेशनल सेविंग्स सर्टिफिकेट ही ख़रीदा जा सकता है इसकी प्रमुख विशेषताऐं निम्न है :-

  • 5 वर्ष की मैच्योरिटी वाले National Savings Certificate को भारत के किसी भी डाकघर से खरीदा जा सकता है |
  • वित्त मंत्रालय के आदेशानुसार इसकी ब्याज दर समय-समय पर बदलती रहती है |
  • National Savings Certificate में न्यूनतम निवेश राशि 100 रुपये है लेकिन इसकी कोई अधिकतम सीमा नहीं है |
  • आयकर अधिनियम 1961 की धारा 80C के अंतर्गत NSC के तहत निवेश की गई वार्षिक 5 लाख रु. तक की राशि पर टैक्स कटौती का लाभ मिलता है
  • इस स्कीम के अंतर्गत ब्याज को वार्षिक रूप में जमा किया जाता है लेकिन पूर्ण भुगतान मैच्योरिटी पर ही किया जाता है , जिसमें TDS की कटौती नहीं होती है |
  • इसमें निवेश करने वाले निवेशकअपने परिवार के किसी भी सदस्य को नॉमिनी बना सकता है | निवेशक की मृत्यु हो जाने की स्तिथि में यह उनके नॉमिनी के द्वारा संचालित किया जा सकता है |

यदि आपको यह Post Office National Savings Certificate In Hindi की जानकारी पसंद आई या कुछ सीखने को मिला तब कृपया इस पोस्ट को Social Networks जैसे कि Facebook, Twitter और दुसरे Social media sites share कीजिये |

You might also like