Share Market

PM सूर्योदय योजना को मिली मंजूरी; शुक्रवार को इन 3 मल्टीबैगर Power PSU Stocks

PM सूर्योदय योजना को मिली मंजूरी; शुक्रवार को इन 3 मल्टीबैगर Power PSU Stocks

कैबिनेट ने PM Suryoday Yojana को मंजूरी दे दी है. पहली नजर में यह पावर फाइनेंस कंपनी IREDA, PFC और REC के लिए पॉजिटिव न्यूज है. हालांकि, ब्याद दरों की लिमिट के कारण यहां तगड़ा एक्शन दिख सकता है

  थोड़े दिन पहले मोदी जी ने कहा था की 2030 तक भारत में 50% से अधिक एनर्जी Green Energy के सोर्स से पूरी की जाएगी और ग्रीन एनर्जी का सबसे बड़ा सोर्स सोलर एनर्जी है इसलिए आने वाला समय सोलर का है इसलिए माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा एक योजना शुरू की है जिसका नाम PM Suryoday Yojana है

इस योजना के तहत इस योजना में 1,00,00,000 घरों पर Solar Rooftop Yojana 2024 लगाए जाएंगे, जिससे गरीब मध्यम वर्ग परिवार का बिजली बिल कम होगा और ऊर्जा के क्षेत्र में भारत आत्मनिर्भर बनेगा प्रधानमंत्री सूर्योदय योजना से एक करोड़ परिवारों को हर महीने 300 यूनिट तक मुफ्त बिजली मिल सकेगी जिससे उन्हें सालाना 18,000 रुपये तक की बचत होगी

REC, IREDA और PFC के लिए सूर्योदन योजना गुड न्यूज है, क्योंकि इनके लिए फाइनेंसिंग के नए अवसर खुलेंगा. कैबिनेट ब्रीफिंग में सरकार ने कहा कि पैनल लगाने के लिए जो लोन मिलेगा उसपर ब्याज की दर रेपो रेट से 0.50% ज्यादा होगी. यह पावर फाइनेंस कंपनियों के लिए निगेटिव न्यूज है, क्योंकि ये कंपनियां जो फंड जुटाती हैं उसके लिए ब्याज की दर रेपो रेट के मुकाबले 2 फीसदी ज्यादा होती है. best Power PSU Stocks

गुरुवार को REC का शेयर 4 फीसदी की तेजी के साथ 444 रुपए, PFC का शेयर पौने तीन फीसदी की तेजी के साथ 400 रुपए और IREDA का शेयर डेढ़ फीसदी की तेजी के साथ 151.50 रुपए पर बंद हुआ. शुक्रवार को इन स्टॉक्स के मूवमेंट पर इसलिए नजर रखें,

 IREDA Share Price  Details In Hindi

IREDA की स्थापना 1987 में नवीन और नवीकरणीय ऊर्जा मंत्रालय (MNRE) के प्रशासनिक नियंत्रण के तहत एक सार्वजनिक लिमिटेड सरकारी कंपनी के रूप में की गई थी। IREDA प्रारंभिक वर्षों से ही वित्तीय सहायता प्रदान करके भारत की नवीकरणीय ऊर्जा यात्रा में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता रहा है, जब देश में नवीकरणीय ऊर्जा अपनी जड़ें जमा रही थी।

IREDA की स्थापना 1987 में हुई थी ह कंपनी मूल रूप से नॉन डिपॉजिट टॉकिंग और नॉन बैंकिंग फाइनेंस विभाग की एक प्रमुख कंपनी है, जिसके तहत यह भारतीय रिजर्व बैंक में रजिस्टर्ड है और साथ में जून 2015 से यह भारत के मिनी रत्न में भी शामिल है।

कंपनी का कुल मार्केट कैप 29,538.53 करोड़ का है तो कंपनी के अगर हम पिछले तीन साल का रेवेन्यू देखे तो मार्च 2021 में कंपनी ने 2654 करोड़ का रेवेन्यू जेनरेट किया था, फिर मार्च 2022 में 2,859 करोड़ का था। best Power PSU Stocks

  • MARKET CAP = ₹ 42,856.41 Cr.
  • ADVANCES = ₹ 0 Cr.
  • NO. OF SHARES = 268.78 Cr.
  • P/E = 49.57
  • P/B = 5.26
  • FACE VALUE = ₹ 10
  • DIV. YIELD = 0 %
  • BOOK VALUE (TTM) = ₹ 30.33
  • OPERATING REVENUE = ₹ 3,481.97 Cr.
  • NET PROFIT = ₹ 864.63 Cr.
  • PROMOTER HOLDING = 75 %
  • EPS (TTM) = ₹ 3.22
  • SALES GROWTH = 21.75
  • ROE = 15.44 %
  • ROCE = 8.17%
  • PROFIT GROWTH = 36.48 %

भारत में तेजी से बढ़ने वाला Top 6 सेक्टर

Power Finance Corporation

पावर फाइनेंस कॉर्पोरेशन लिमिटेड 1986 में स्थापित एक व्यवस्थित रूप से महत्वपूर्ण नॉन डिपॉजिट स्वीकार करने वाली NBFC है, जो भारतीय रिजर्व बैंक के साथ इंफ्रास्ट्रक्चर फाइनेंस कंपनी के रूप में रजिस्टर्ड है। यह भारतीय बिजली क्षेत्र को वित्तीय सहायता देने में लगा हुआ है।PFC विद्युत मंत्रालय के प्रशासनिक नियंत्रण के अधीन है। PFC को जून, 2007 में नवरत्न सीपीएसई तथा 28 जुलाई, 2010 को RBI द्वारा इंफ्रास्ट्रक्चर फाइनेंशियल कंपनी का दर्जा दिया गया था। PFC को अक्टूबर, 2021 में ‘महारत्न CPSE’ की उपाधि से सम्मानित किया गया था। best Power PSU Stocks

  • MARKET CAP = ₹ 1,36,327.20 Cr.
  • ADVANCES = ₹ 4,10,829.15 Cr.
  • NO. OF SHARES = 330.01 Cr.
  • P/E = 9.93
  • P/B = 1.75
  • FACE VALUE = ₹ 10
  • DIV. YIELD = 3.21 %
  • BOOK VALUE (TTM) = ₹ 235.82
  • OPERATING REVENUE = ₹ 39,651.75 Cr.
  • NET PROFIT = ₹ 11,605.47 Cr.
  • PROMOTER HOLDING = 55.99 %
  • EPS (TTM) = ₹ 41.59
  • SALES GROWTH = 2.87
  • ROE = 18.20 %
  • ROCE = 9.25%
  • PROFIT GROWTH = 15.80 %

REC Limited

आरईसी भारत सरकार के विद्युत मंत्रालय के प्रशासनिक नियंत्रण के तहत एक ‘महारत्न’ कंपनी है। यह RBI के साथ गैर-बैंकिंग वित्त कंपनी (NBFC), सार्वजनिक वित्तीय संस्थान (PFI) और इंफ्रास्ट्रक्चर फाइनेंसिंग कंपनी (IFC) के रूप में पंजीकृत है। और यह पावर फाइनेंस कॉर्पोरेशन लिमिटेड (PFC) की सहायक कंपनी है। best Power PSU Stocks

REC लिमिटेड की स्थापना 1969 में साठ के दशक के अंत में भारत के सामने आई गंभीर सूखे की स्थिति की पृष्ठभूमि में की गई थी। कंपनी का प्रारंभिक कार्य मुख्य रूप से कृषि को बढ़ावा था और देश भर में राज्य बिजली बोर्डों को पंप-सेटों को सक्रिय करने में मदद करना था। उसके बाद REC ने उत्पादन, ट्रांसमिशन, डिस्ट्रीब्यूशन, रिन्यूएबल एनर्जी और नई तकनीकों जैसे इलेक्ट्रिक वाहन, बैट्री स्टोरेज, ग्रीन हाइड्रोजन आदि सहित संपूर्ण विद्युत-इन्फ्रास्ट्रक्चर क्षेत्र को कवर करने के लिए अपने वित्तपोषण (Financing) अधिदेश को विकसित और विस्तारित किया था।

हाल ही में आरईसी ने गैर-विद्युत इन्फ्रास्ट्रक्चर क्षेत्र में भी विस्तार किया है, जिसमें सड़क और एक्सप्रेस वे, मेट्रो रेल, हवाई अड्डे, IT कम्युनिकेशन, सामाजिक और वाणिज्यिक इन्फ्रास्ट्रक्चर (शैक्षणिक संस्थान, अस्पताल), बंदरगाह और अन्य विभिन्न क्षेत्रों जैसे स्टील, रिफाइनरी आदि के संबंध में इलेक्ट्रोमैकेनिकल (E&M) कार्य शामिल हैं।

  • MARKET CAP = ₹ 1,21,036.14 Cr.
  • ADVANCES = ₹ 4,22,083.91 Cr.
  • NO. OF SHARES = 263.32 Cr.
  • P/E = 9.31
  • P/B = 1.84
  • FACE VALUE = ₹ 10
  • DIV. YIELD = 2.76 %
  • BOOK VALUE (TTM) = ₹ 249.99
  • OPERATING REVENUE = ₹ 39,208.06 Cr.
  • NET PROFIT = ₹ 11,054.64 Cr.
  • PROMOTER HOLDING = 52.63 %
  • EPS (TTM) = ₹ 49.38
  • SALES GROWTH = 0.19
  • ROE = 20.56 %
  • ROCE = 9.11%
  • PROFIT GROWTH = 10.04 %

ओरिएंट ग्रीन पावर शेयर टारगेट 2024 से 2040

best Power PSU Stocks Share FAQ

Q. IREDA कंपनी किस सेक्टर में काम करती है?
Ans. Green Energy के सेक्टर में काम करती है|

Q. IREDA के मालिक कौन हैं?
Ans. 1987 में गठित, IREDA एक मिनी रत्न (श्रेणी – I) संगठन है, जिसका स्वामित्व भारत सरकार के पास है और प्रशासनिक रूप से नवीन और नवीकरणीय ऊर्जा मंत्रालय (MNRE) द्वारा नियंत्रित किया जाता है। नवंबर 2023 में, IREDA एक आरंभिक सार्वजनिक पेशकश (IPO) के साथ NSE और BSE पर सूचीबद्ध होकर सार्वजनिक हुआ।

Q. IREDA के सीईओ का क्या नाम है?
Ans.1987 में गठित, IREDA एक मिनी रत्न (श्रेणी – I) संगठन है, जिसका स्वामित्व भारत सरकार के पास है और प्रशासनिक रूप से नवीन और नवीकरणीय ऊर्जा मंत्रालय (MNRE) द्वारा नियंत्रित किया जाता है। नवंबर 2023 में, IREDA एक आरंभिक सार्वजनिक पेशकश (IPO) के साथ NSE और BSE पर सूचीबद्ध होकर सार्वजनिक हुआ।

Q. क्या IREDA कर्ज मुक्त कंपनी है?
Ans. हा

Q. 2035 में IREDA Share Price Target क्या होगा?
Ans. 2035 में IREDA का शेयर 2000 रूपये या 2500 रूपये के टारगेट प्राइस को टच कर सकता है|

यदि आपको ये PSU Share Price Target 2030 की जानकारी पसंद आई या कुछ सीखने को मिला तब कृपया इस पोस्ट को Social Networks जैसे कि Facebook, Twitter और दुसरे Social Media Sites Share कीजिये | best Power PSU Stocks

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button

Discover more from Invest Kare

Subscribe now to keep reading and get access to the full archive.

Continue reading