कारपेट बनाने का बिज़नेस कैसे शुरू करें How To Start Carpet Making Business Hindi

कारपेट बनाने का बिज़नेस कैसे शुरू करें How To Start Carpet Making Business Hindi

How to start a carpet business in india कालीन हमारे घर में इस्तेमाल होने वाली एक जरुरी चीज है क्योकि  घर के अन्दर बहुत सी जगह ऐसी होती है जंहा कारपेट की जरुरत पड़ती है इसलिए आज कालीन  या कारपेट की इतनी ज्यादा डिमांड है और भारत कालीनों का दुनिया का सबसे बड़ा उत्पादक और निर्यातक है। भारत में निर्मित लगभग 75% -85% कालीन दुनिया के 70 से अधिक देशों को निर्यात किए जाते हैं।

 Carpet Making Business hindi

इंडिया के अन्दर बहुत पुराने समय से Carpet बनाए जा रहे है और दनिया के अन्दर फेमस भी बहुत  ज्यादा है तभी इंडिया के अन्दर Carpet  का बिज़नेस अच्छे लेवल पर चल रहा है आज बहुत से लोग Carpet बनाने का बिज़नेस करके लाखो रुपये कमा रहे है  तो कोई भी person यदि अपना कोई छोटा सा बिज़नेस शुरु करना चाहते है तो Carpet Making Business स्टार्ट कर सकते है और अच्छी कमाई कर सकते है |

मेहंदी पाउडर (मेहंदी) बनाने का बिजनेस

कालीन बनाने के बिज़नेस के मार्किट Potential 

कालीन कपड़ा फर्श कवरिंग हैं जो मुख्य रूप से मोटे बुने हुए कपड़े से बने होते हैं। इन्हें के आधार पर वर्गीकृत किया जा सकता है |

  • Handmade carpets
  • Manufactured carpets

कालीनों के लिए बाजार की संभावनाएं इसकी घरेलू और विदेशी मांग में बहुत योगदान दे रही हैं। इसके अलावा, भारत से कालीनों का निर्यात 2020 में 1.37 अरब डॉलर रहा।

कालीन बनाने का बिज़नेस के लिए जरूरी चीजे

Carpet Manufacturing  Plant  Business Requirements :- इस बिज़नेस को शुरु करने के लिए बहुत सी चीजो को जरुरत पड़ती है  लेकिन चीज की जरुरत बिज़नेस के आकार पर निर्भर करती है क्योकि ये बिज़नेस छोटे लेवल से शुरु करते है तो ज्यादा चीजो की जरुरत नही पड़ती है और बिज़नेस बड़े लेवल पर शुरु करते है तो बहुत सी Requirements होती है | Carpet  manufacturing Plant  project report

  • इन्वेस्टमेंट (Investment)
  • जमीन (land)
  • बिज़नेस प्लान (Business plan)
  • बिल्डिंग (Building)
  • मशीन (Machine)
  • बिजली, पानी की सुविधा (Electricity, water facilities)
  • कर्मचारी (Staff)
  • कच्चा माल (Raw Material)
  • वाहन (Vehicle)

अब निचे सभी के बारे में विस्तार से बतायेंगे की किस चीज कितनी जरुरत पड़ती है |

Ceramic टाइल बनाने का बिज़नेस कैसे करे 

कालीन बनाने का बिज़नेस के लिए इन्वेस्टमेंट

Investments For Carpet  Manufacturing  Business :- इस बिज़नेस के अन्दर निवेश इस Business और जमीन के ऊपर निर्भर करता है क्योकि यदि बड़ा Business शुरु करते है तो ज्यादा इन्वेस्टमेंट (Investment) करनी पड़ती है और छोटा बिज़नेस  शुरु करते है (Carpet  banane ka business ) तो उसके अन्दर कम इन्वेस्टमेंट (Investment) करनी पड़ती है (Carpet  banane ka business )और खुद की जमीन है तो कम पैसो में काम चल सकता है और यदि जमीन किराये पर लेते है या खरीदते है तो उसके अन्दर ज्यादा इन्वेस्टमेंट  (Investment)करनी पड़ती है

और इसके अन्दर मशीन भी कई प्रकार की आती है और सभी के रेट भी अलग अलग है इनके ऊपर भी इन्वेस्टमेंट निर्भर करती है  इनके बाद इस Business को अच्छे लेवल पर शुरु करने के लिए मशीन खरीदनी पड़ती बिल्डिंग बनानी पड़ती है जिसके अन्दर मशीन लगेगी और स्टॉक रखने के लिए सभी चीज के लिए बिल्डिंग फिर बिजली, पानी की सुविधा और कच्चा माल व् वाहन सभी के लिए अलग अलग इन्वेस्टमेंट(Investment) करनी पड़ती है जैसे ;

Total Investment = Rs. 5 To  10 Lakhs

Chai Sutta Bar Franchise Hindi 

कालीन बनाने के बिज़नेस के लिए जमीन

 Land For Carpet  Manufacturing  Business Hindi :-  इसके अन्दर अच्छी जमीन की जरुरत पड़ती है क्योकि इसके अन्दर प्लांट बनाना पड़ता है उसके बाद गोडाउन बनाना पड़ता है और कुछ जमीन पार्किंग के लिए चाहिए   

Total Space :- 300 Square Feet To   500   Square Feet

मेडिकल ऑक्सीजन सिलिंडर प्लांट कैसे लगाये

कालीन बनाने के बिज़नेस शुरू करने के लिए आवश्यक लाइसेंस, और पंजीकरण

License, permissions, and registrations required to start a Carpet manufacturing business :- 

फर्म का पंजीकरण: आपको अपनी फर्म को या तो एक प्रोपराइटरशिप या पार्टनरशिप फर्म के रूप में पंजीकृत करना होगा।
जीएसटी पंजीकरण: इसके अतिरिक्त, आपको जीएसटी नंबर के लिए पंजीकृत होना होगा। व्यापार लाइसेंस: आपको अपने स्थानीय अधिकारियों से व्यापार लाइसेंस के लिए पंजीकरण करने की भी आवश्यकता है।
प्रदूषण प्रमाण पत्र: जैसा कि कालीन बनाने का व्यवसाय प्लास्टिक और अन्य को बेचने से संबंधित है जो पर्यावरण को प्रदूषण पैदा कर सकता है इसलिए सुरक्षा उद्देश्यों के लिए प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड से प्रदूषण नियंत्रण प्रमाण पत्र लेना बेहतर है।
MSME/SSI पंजीकरण: MSME उद्योग आधार ऑनलाइन पंजीकरण प्राप्त किया जाना चाहिए और हर व्यवसाय को शुरू करने के लिए अनिवार्य है, इससे आप अपने व्यवसाय से संबंधित सभी सरकारी योजनाओं का लाभ उठा सकेंगे।

ट्रेडमार्क: आपको अपने ब्रांड की रक्षा करने की आवश्यकता है, फिर आपको अपने क्षेत्र में नगरपालिका प्राधिकरण से ट्रेडमार्क पंजीकरण के लिए आवेदन करना होगा जहां आपने व्यवसाय शुरू करने का निर्णय लिया है।
आईएस 4955-1968: इन सभी के साथ-साथ बीआईएस पंजीकरण और आईएस 4955-1968 पंजीकरण कालीन उत्पादों के घरेलू उपयोग के लिए किया जाना है और आपके व्यवसाय के लिए वितरण नेटवर्क शुरू करना भी आवश्यक है तो आपको ‘वितरण समझौता’ कागज’।
एसएसआई इकाई पंजीकरण: आपको एसएसआई इकाई पंजीकरण के लिए भी आवेदन करना होगा जो आपको सरकारी सब्सिडी और अन्य लाभों का लाभ उठाने में मदद करता है। इसके लिए आपको अपने व्यवसाय के नाम से बैंक में एक चालू खाता खोलना होगा।
दुकान लाइसेंस: भारत में स्टेशनरी व्यवसाय शुरू करने से पहले आपको एक दुकान लाइसेंस प्राप्त करने की आवश्यकता है।

इस्तेमाल किए गए कालीन कपड़े के आधार पर कारपेट के प्रकार

  • Nylon
  • Triexta
  • Polyester
  • Wool
  • Olefin
  • Based on carpet piles and face weight
  • Low pile carpet
  • Medium pile carpet
  • High pile carpet

लेमन ग्रास की खेती कैसे करे

इनडोर कालीन शैली और निर्माण के आधार पर कारपेट प्रकार

  • बनावट कालीन: कमरों और शयनकक्षों में
  • बर्बर कालीन। : सीढ़ियों, गलियारों और तहखाने में
  • पैटर्न कालीन: वाणिज्यिक कार्यालयों में
  • कालीन में शामिल गांठों के आधार पर
  • सममित गाँठ
  • फारसी गाँठ
  • तिब्बती गाँठ
  • जुफ्ती गाँठ
  • कालीनों के उपयोग के आधार पर
  • किसी व्यक्ति के पैरों को ठंडी टाइलों से इन्सुलेट करना और सीधे संपर्क से बचना
  • पवित्र संस्कार करने के लिए उपयोग किया जाता है
  • जगह या कमरे को सुविधाजनक बनाने के लिए उपयोग किया जाता है
  • अंदरूनी सजाने के लिए प्रयुक्त
  • चलते समय ध्वनि कम करें
  • योग के लिए प्रयुक्त

ऐक्रेलिक बटन बनाने का बिज़नेस कैसे शुरू करे 

कच्चे माल की आवश्यकता

इस कालीन बनाने वाले business को स्थापित करने के लिए आवश्यक कच्चे माल हैं Carpet Making Business hindi

  • ऊनी कपास
  • सिंथेटिक यार्न
  • रंगों
  • रसायन
  • पैकिंग के लिए सामग्री

कालीन बनाने का बिज़नेस शुरू करने के लिए आवश्यक मशीनरी

 Machinery required to start Carpet making Business :- इस बिज़नेस को स्थापित करने के लिए आवश्यक मशीनरी हैं

  • टफ्टिंग मशीन
  • बाल काटना और ट्रिमिंग करने वाली मशीन
  • ऊन निष्कर्षण मशीन
  • सिलाई मशीन
  • Dying machine
  • डिजिटल प्रिंटिंग / प्रिंटिंग मशीन
  • यार्न गर्मी सेटिंग मशीन
  • बैक कोटिंग मशीन

कालीन  के Target उपभोक्ता

  • Interior designers and contractors
  • Movie Theatres
  • Households
  • Commercial places
  • Religious places
  • Hotels and restaurants
  • Meditational centers

कालीन बनाने के बिज़नेस में वृद्धि

Growth in Carpet making business :- कालीन बनाने वाले बिज़नेस एक सफल बिज़नेस है और इसने निम्नलिखित विकास संभावनाओं को प्रदर्शित किया है। 2013-2017 के बीच भारतीय हस्तनिर्मित कालीन निर्यात में 4.3% की सीएजीआर की वृद्धि हुई है। बढ़ती “मेक इन इंडिया” विचारधारा के कारण इन कालीनों की स्थानीय मांग भारत के साथ-साथ विश्व स्तर पर लगभग 70 अन्य देशों में बढ़ रही है। Carpet Making Business hindi 

बिज़नेस को सफल बनाने के लिए टिप्स

Tips for making your business a successful one :- 

  • सबसे पहले, भारतीय कालीन निर्माण के लिए पारंपरिक हस्तकला, शुद्ध कपड़े और स्थानीय पैटर्न और डिजाइन की आवश्यकता होती है जो विदेशी बाजार में मुख्य रुचि रखते हैं।
  • दूसरे, कच्चा माल और श्रम की उपलब्धता बहुत आसान है जो आपको कम निवेश और उत्पादन की लागत का लाभ देती है।
  • यह इंटीरियर डिजाइनिंग सेगमेंट में प्रसिद्ध कंपनियों और डिजाइनरों के साथ व्यापार स्थापित करने का अवसर प्रदान करता है।

कालीन बनाने के बिज़नेस में लाभ

इस कालीन बनाने वाले बिज़नेस से लगभग ₹50,000- ₹100000 मासिक लाभ होता है।

यदि आपको यह Carpet Making Business hindi की जानकारी पसंद आई या कुछ सीखने को मिला तब कृपया इस पोस्ट को Social Networks जैसे कि Facebook, Twitter और दुसरे Social media sites share कीजिये  Carpet Making Business hindi 

You might also like
Leave a comment