डिजिटल गोल्ड क्या हैं | क्या आपको इसमें निवेश करना चाहिए? What is Digital Gold? Should you invest in it?

डिजिटल गोल्ड क्या हैं | क्या आपको इसमें निवेश करना चाहिए? What is Digital Gold? Should you invest in it? | Digital Gold in Hindi

भारतीयों के लिए सोना एक निवेश से बढ़कर है, और किसी अन्य कीमती धातु की विरासत नहीं है। त्योहारों का मौसम हो, शादियों का, या कोई अन्य विशेष अवसर, सोना खरीदना अक्सर एक उत्कृष्ट हेज होने के अलावा शुभता से जुड़ा होता है। हालाँकि, सोने की कीमत ने अपने ऊपर की ओर बढ़ने वाले प्रक्षेपवक्र को बनाए रखा है और आज, बाजार में इनकी कीमत काफी अधिक है।

Digital Gold in Hindi

इसके अलावा, भौतिक सोना खरीदते समय, आपको इसकी शुद्धता, बनाने और इससे जुड़े अन्य अतिरिक्त शुल्क जैसी कई बातों का ध्यान रखने की आवश्यकता होती है जो बिक्री मूल्य को बढ़ाते हैं आज हम Digital Gold के कई महत्वपूर्ण सवालों के बारे में बात करेंगे जैसे की डिजिटल गोल्ड क्या हैं (What is Digital Gold), ये कैसे काम करता हैं और डिजिटल गोल्ड के फायदे और नुकसान। साथ में इस आर्टिकल के अंत में हम बात करेंगे की क्या आपको डिजिटल गोल्ड में निवेश करना चाहिए या नहीं।

डिजिटल गोल्ड क्या है

What is Digital Gold? :- डिजिटल गोल्ड की बात करे तो यह एक तरीका है जिस से गोल्ड के अन्दर इन्वेस्टमेंट की जाती है जैसे हमे गोल्ड  के अन्दर इन्वेस्टमेंट करना पड़ता था तो पहले दुकान से गोल्ड  खरीद कर लाते थे तभी गोल्ड  के अन्दर इन्वेस्टमेंट होती थी लेकिन आज सब कुछ डिजिटल हो चूका है तो गोल्ड के अन्दर इन्वेस्टमेंट करनी है तो इसके लिए आपको शॉप के अन्दर नही जाना पड़ता है और आप ऑनलाइन डिजिटल गोल्ड खरीद सकते है

आप मात्र ₹1 का भी शुद्ध 24 कैरेट गोल्ड खरीद और बेच सकते हैं और डिजिटल गोल्ड को ख़रीदना एक ऐसा वर्चुअल तरीका हैं जिस से आप गोल्ड में इन्वेस्टमेंट कर सकते है |

डिजिटल गोल्ड कैसे खरीदें (How To Buy Digital Gold)

भारत में मुख्य रूप से तीन डिजिटल गोल्ड सेलर हैं।

  1. MMTC (Govt.)
  2. Safe Gold
  3. Augmont

ये तीनों कंपनिया गोल्ड खरीदती हैं और उनके प्लेटफार्म की तरफ से निवेशकों के गोल्ड को सुरक्षित रखती हैं। निम्न प्लेटफॉर्म्स की मदद से आप ई-गोल्ड खरीद सकते हैं –

  • Paytm
  • Phone pe
  • Google Pay
  • Airtel Payments Bank
  • Amazon.in
  • Tanishq

PhonePe के जरिए ऐसे खरीदें गोल्ड  :

  • पहले अपना PhonePe अकाउंट सेट करें.
  •  इसके बाद स्क्रोल कर इन्वेस्टमेंट कैटेगरी में आएं.
  •  फिर Buy 24K Gold पर क्लिक करें.
  •   इसके बाद लिस्ट से उस गोल्ड कॉइन को सेलेक्ट करें जिसे आप खरीदना चाहते हैं. या आप उस अमाउंट को भी आसानी से ऐड कर सकते हैं, जिसे आप गोल्ड खरीदने के लिए खर्च करना चाहते हैं. खास बात ये है कि आप 1 रुपये में भी यहां सोना खरीद सकते हैं.
  •  इसके बाद अपने बैंक अकाउंट से पेमेंट कर दें.

Google Pay के जरिए ऐसे खरीदें सोना:

  •  अपना गूगल पे अकाउंट सेट करें और अपना बैंक अकाउंट ऐड करें.
  •   इसके बाद स्क्रोल कर गोल्ड लॉकर पर आएं. Digital Gold in Hindi
  •  इसके बाद Buy Gold पर क्लिक करें और परचेज करने के लिए अमाउंट एंटर करें. बता दें आप गोल्ड किसी भी समय बेच भी सकते हैं|

डिजिटल गोल्ड के फायदे और नुकसान

Advantages and Disadvantages of Digital Gold :- किसी भी चीज के अन्दर इन्वेस्टमेंट करते है तो उसके फायदे और नुकसान दोनों चीज मिलती है ऐसे ही यदि डिजिटल गोल्ड के अन्दर इन्वेस्टमेंट की जाये तो इसके भी कुछ फायदे है और कुछ नुकसान है जैसे :-

1. इन्वेस्टमेंट की कोई मिनिमम लिमिट नही :- डिजिटल गोल्ड में कोई भी न्यूनतम निवेश की लिमिट नही है आप ₹1 का भी 24k सोना खरीद सकते हैं। वही फिजिकल गोल्ड में आपको ऐसी कोई सुविधा नहीं मिलती।

2.  कोई मेकिंग चार्ज नही  :- डिजिटल गोल्ड के अंदर वास्तविक डिलीवरी तो उठानी होती नहीं हैं तो आपको  10 से 15% तक का मेकिंग चार्ज नही  देने पड़ सकते हैं

3. डिजिटल गोल्ड खरीदने पर आपको चोरी का कोई डर नहीं रहता जबकि फिजिकल गोल्ड में चोरी का खतरा हमेशा बना रहता हैं।

4.  इसमें इन्वेस्टर  जब चाहे अपने गोल्ड इन्वेस्टमेंट को 24×7 मार्केट रेट पर बेच सकता हैं। Digital Gold in Hindi

5.   इन्वेस्टर  जब चाहे अपने डिजिटल गोल्ड की फिजिकल डिलीवरी ले सकता हैं।

डिजिटल गोल्ड के नुकसान :- 

1. रेगुलेटर  नही होना :-  डिजिटल गोल्ड के ट्रांजैक्शंस की देखरेख के लिए कोई नियामक नहीं हैं जिस से इसमें थोडा सा रिस्क रहता है |

2. डिजिटल पार्टनर्स आपसे गोल्ड को vault में होल्ड करने के चार्ज भी वसूल करते हैं।

3.  यदि आप   डिजिटल गोल्ड की डिलीवरी लेना चाहते हैं तो आपको मेकिंग चार्जेज और डिलीवरी चार्ज देने होते हैं। ये डिजिटल गोल्ड का एक बहुत बड़ा नुकसान हैं।

4. इसे indefinite पीरियड के लिए होल्ड नहीं कर सकते। अधिकांश डिजिटल गोल्ड सर्विस प्रोवाइडर्स गोल्ड को डिजिटल रूप में होल्ड करने की एक निश्चित अवधि रखते हैं। इस अवधि के बाद या तो अपने डिजिटल गोल्ड को बेचना होगा या उसकी फिजिकल डिलीवरी होगी।

डिजिटल गोल्ड इन्वेस्टमेंट में कोई लॉक-इन-पीरियड  

Digital Gold निवेश में कोई भी लॉक इन पीरियड नहीं होता हैं। निवेशक जब चाहे अपने गोल्ड को बेच सकता हैं  |

डिजिटल गोल्ड इन्वेस्टमेंट से सबंधित प्रश्न उत्तर 

Q. Digital gold खरीदने के लिए कौनसा एप्प सही हैं?
Ans. आप किसी भी विश्वसनीय एप्प के साथ डिजिटल गोल्ड खरीद सकते हैं जैसे की Paytm , Phone Pay, Google Pay आदि।

Q. Digital gold फिजिकल गोल्ड से बेहतर हैं?
Ans. आप Investments के लिए गोल्ड खरीद रहे हैं तो फिर डिजिटल गोल्ड एक अच्छा विकल्प होता हैं।

Q. क्या डिजिटल गोल्ड इन्वेस्टमेंट करने में कितना रिस्क है
Ans. डिजिटल गोल्ड का सबसे बड़ा जोखिम हैं की इसका कोई नियामक (रेगुलेटर) नहीं हैं। बाकी रिटर्न के हिसाब से इसकी अतिरिक्त लागतें इसकी कॉस्ट को बढ़ाती हैं।

Q. Digital gold खरीदने के लिए Kyc करवाने की आवश्यकता हैं?
Ans. आप Kyc के भी डिजिटल गोल्ड में निवेश कर सकते हैं।

Q. क्या minor डिजिटल गोल्ड खरीद सकता हैं? Digital Gold in Hindi
Ans. एक माइनर या अवयस्क ऑनलाइन सोना नहीं खरीद सकता।

Q. क्या बिना पैन कार्ड के डिजिटल गोल्ड में निवेश किया जा सकता हैं?
Ans. अधिकतर प्लेटफॉर्म्स 2 लाख रुपये तक बिना पैन कार्ड के निवेश का विकल्प देते हैं। इससे अधिक निवेश के लिए आपको पैन कार्ड की आवश्यकता होती हैं।

यदि आपको ये Digital Gold in hindi  in India की जानकारी पसंद आई या कुछ सीखने को मिला तब कृपया इस पोस्ट को Social Networks जैसे कि Facebook, Twitter और दुसरे Social media sites share कीजिये |

You might also like
Leave a comment