Yojana

Gaon Ki Beti Yojana – मध्य प्रदेश गांव की बेटी योजना स्कॉलरशिप ऑनलाइन फॉर्म

Gaon Ki Beti Yojana – मध्य प्रदेश गांव की बेटी योजना स्कॉलरशिप ऑनलाइन फॉर्म

Gaon Ki Beti Yojana क्या है ?

Gaon Ki Beti Yojana 2024 – मध्य प्रदेश में बहुत से छोटे-छोटे गाँव है, जहाँ पर कई मेधावी बालिकाएं होती हैं। बारहवीं पास होने के बाद भी छात्राओं को पढ़ने की इच्छा होती है लेकिन कॉलेज, उनके गाँव से दूर शहरों और जिलों में होते हैं। कई गरीब परिवारों में ऐसी आर्थिक स्थिति नहीं होती हैं कि वह बालिकाओं की उच्च शिक्षा का खर्च उठा सके। इस वजह से प्रतिभावान छात्राओं के विकास का रास्ता बंद हो जाता है इसलिए गांव की बेटी Yojana ( MP Gaon Ki Beti Scheme ) को मध्यप्रदेश की सरकार के द्वारा शुरू किया है, ताकि राज्य की सभी गांव की बेटियों को शिक्षा प्राप्त करने में तकलीफ न हो। Gaon Ki Beti online Form भरने के बाद स्कॉलरशिप के जरिये सभी बेटियां अपनी पढ़ाई जारी रख पायेगी।

गांव की बेटी स्कॉलरशिप Yojana का उद्देश्य

मध्य प्रदेश गांव की बेटी Yojana का उद्देश्य का मुख्य उद्देश्य लड़कियों के शिक्षा के स्तर को ऊपर उठाना है। बहुत ही ऐसी लड़कियां हैं जो पैसों के अभाव में पढ़ नहीं पाते हैं और अपने सपनों को पूरा नहीं कर पाती हैं। सिर्फ गांव की बेटी को ही Yojana में शामिल किया जाता है। इस योजना ( Madhya Pradesh Scholarship Portal 2.0 ) के अंतर्गत सभी गांव की बेटिया जिन्होंने अपनी 12 वीं कक्षा तक की पढ़ाई पूरी की है, उन्हें अपनी आगे की उच्च शिक्षा में सहायता देने के लिए यह छात्रवृत्ति प्रदान की जाती है। गांव की बेटी Yojana के जरिये गांव की बेटिया अपनी इस योजना से प्राप्त राशि को अपनी पढ़ाई में लगाएगी। इससे बेटीयाँ पढ़ाई सम्बन्धी समस्याए भी दूर करेगी और आत्मनिर्भर बन खुद के दम पर आगे बढ़ सकेगी।

मध्य प्रदेशGaon Ki Beti Yojana का लाभ

  • हर गांव में मेधावी लड़कियां हैं। बारहवीं पास करने के बाद वह कॉलेज में पढ़ना चाहती है, लेकिन कॉलेज शहरों और कस्बों में होते हैं, साथ ही, ज्यादातर परिवार लड़कियों की कॉलेज शिक्षा का खर्च उठाने की स्थिति में नहीं होते हैं, उस स्थिति में, यह Yojana उनकी मदद करेगी।
  • गाँव की बेटी छात्रवृत्ति Yojana का मुख्य उद्देश्य लड़कियों की शिक्षा का स्तर बढ़ाना है।
  • सरकार का मानना ​​है कि अगर उन्हें वित्तीय सहायता दी जाती है, तो वे आगे बढ़ सकते हैं।
  • लड़कियां अपने माता-पिता पर बोझ नहीं बनेंगी, जिसके कारण लड़कियों का जनगणना में विकास होगा।
  • सरकार का मानना ​​है कि अगर लड़कियां अपने पैरों पर खड़ी होती हैं। तब वह किसी पर निर्भर नहीं होगी और उसे किसी वित्तीय समस्या का सामना नहीं करना पड़ेगा।
  • Yojana का उद्देश्य उच्च शिक्षा हासिल करने के लिए ग्रामीण क्षेत्रों की प्रतिभाशाली लड़कियों को प्रोत्साहित करने के लिए वित्तीय सहायता प्रदान करना है।
  • इसके अंतर्गत प्रति माह 500 रुपये की दर से 10 महीने के लिए छात्रवृत्ति दी जाती है। जो छात्राएं से 12 वीं कक्षा उत्तीर्ण करती हैं उनको इसका लाभ प्रदान किया जाता है।
  • अनुसूचित जाति/अनुसूचित जनजाति/अन्य पिछड़ा वर्ग और सामान्य वर्ग की छात्राएं इस Yojana का लाभ ले सकती हैं।

मध्यप्रदेश गाँव की बेटी Yojana के लिए पात्रता

  • अगर आप इस Yojana का लाभ प्राप्त करना चाहती हैं तो आपको निम्नलिखित पात्रता मापदंडों को पूरा करना होगा।
  • प्रतिभाशाली लड़कियों को मध्य प्रदेश (एमपी) के ग्रामीण क्षेत्रों का निवासी होना चाहिए।
  • कक्षा 12 वीं की परीक्षा में छात्र को 60% या उससे अधिक अंक प्राप्त करने चाहिए ।
  • इस Yojana का लाभ उठाने के लिए, लाभार्थी के पास गाँव की बेटी प्रमाण पत्र होना चाहिए।
  • एससी / एसटी वर्ग, आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग और बीपीएल परिवारों से संबंधित लड़कियां इस Yojana के लिए पात्र हैं।

Gaon Ki Beti Yojana 2024 के लिए क्या डाक्यूमेंट्स लगेंगे?

(Gaon Ki Beti Scholarship Documents Required)

  • फोटोग्राफ
  • कक्षा 10वीं की मार्कशीट
  • पिछली परीक्षा की मार्कशीट
  • जाति प्रमाण पत्र
  • माता-पिता का आय प्रमाण पत्र
  • बैंक पासबुक
  • निवासी प्रमाण
  • उपरोक्त डॉक्यूमेंट के साथ-साथ

गाँव की बेटी स्कॉलरशिप ऑनलाइन फॉर्म भरते समय समग्र आईडी, College Code, Course/Branch Code, Aadhar Number, Bank Account Number and IFSC Code भी देना होगा।

Gaon Ki Beti Yojana Online Form कैसे भरें?

  • सबसे पहले Gaon ki beti Yojana Online Registration के लिए सबसे पहले आपको MP Scholarship Portal में जाना होगा।(http://scholarshipportal.mp.nic.in/Index.aspx)
  • आपको यहां “Registration” पर क्लिक करना होगा, जैसा ऊपर दिए गये चित्र में बताया गया है।
  • फिर आपके सामने एक पेज खुलेगा, जहां आपको Mp Scholarship Kyc करना होगा। E-KYC में आपको आपका आधार नंबर देना है। आधार मे रजिस्टर मोबाइल नंबर पर एक OTP आएगा। OTP दर्ज करने के बाद पंजीयन करने की प्रक्रिया शुरू होगी।
  • रजिस्ट्रेशन फॉर्म खुलने पर आपको अपना नाम, पिता का नाम, DOB, कैटगिरी, समग्र आई आदि अन्य जानकारियाँ भरनी होंगीं और फिर आपको “Check for Validation” पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपके मोबाईल नंबर और ईमेल आईडी पर Gaon Ki Beti Scholarship लॉगिन करने के लिए आईडी और पासवर्ड आ जायेगा।
  • अब आपको Scholarship Portal MP पर लॉगिन करके गांव की बेटी योजना फॉर्म भरना है।

SBI ई मुद्रा लोन 2024 ऑनलाइन अप्लाई SBI E Mudra Loan Yojana Hindi 2024 Online Apply

Gaon Ki Beti Yojana Application Form ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया

Gaon Ki Beti Yojana Application Form ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया

  • छात्रा को एमपी स्कॉलरशिप पोर्टल 2.0 पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन करने के बाद छात्रा को जो डी और पासवर्ड प्राप्त हुआ है, उससे
  • लॉगिन करके गांव की बेटी योजना फॉर्म भरना है।
  • पोर्टल पर लॉग इन करने के बाद गांव की बेटी योजना के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
  • इसके बाद आपके द्वारा रजिस्टर किया फॉर्म खुल जायेगा, इसी फॉर्म में आगे गांव की बेटी योजना की समस्त जानकारी भरना होगा।
  • फिर सभी महत्वपूर्ण डॉक्यूमेंट अपलोड करने रहेंगे और बैंक खाते की जानकारी देनी होगी।
  • सभी जानकारियां दर्ज करने के उपरांत संपूर्ण एप्लीकेशन फॉर्म को अच्छे से चेक कर लें, इसमें कहीं त्रुटि तो नहीं है अगर त्रुटि है तो उसे सुधार लें फोर्म को फाइनल सबमिट कर दें।
  • फाइनल सबमिट करने के बाद एप्लीकेशन को लॉक करना है। लॉक करने के बाद जो प्रिंटआउट निकलेगा, उस प्रिंट आउट के साथ आपको सभी डॉक्यूमेंट की कॉपी लगाकर कॉलेज में सबमिट करना है, फिर उसकी आगे की प्रोसेस कालेज के द्वारा की जाती है।
  • गांव की बेटी स्कालरशिप का ID और Password फिर से कैसे प्राप्त करें?
    यदि आप गांव की बेटी फॉर्म का Login ID और Password भूल गये है, तो उसे फिर से प्राप्त करने के लिए नीचे दिए लिंक पर क्लिक करें। http://scholarshipportal.mp.nic.in/Public/ResetApplicantPassword.aspx
  • पेज खुलने के बाद पहले विकल्प Select Your Category में अपनी केटेगरी चुने।
  • फिर Enter Your First Name में अपना नाम दर्ज करें।
  • उसके बाद Enter Your Date of Birth में अपनी जन्म तिथि दर्ज करें।
  • उसके बाद reset password में क्लिक करें।
  • आपके सामने आपका नया Login ID और Password आ जायेगा।

Gaon Ki Beti yojana MP फॉर्म के रिजेक्ट होने और स्कालरशिप नहीं आने के कारण

  • MP Gaon Ki Beti Online Form रिजेक्ट होने और स्कालरशिप नहीं आने के कई कारण है जो निम्नलिखित है।
  • यदि आपके माता पिता का आय प्रमाण पत्र 3 साल से अधिक पुराना है, तो आपका फॉर्म रिजेक्ट हो सकता है क्योकि आय प्रमाणपत्र 3 साल के अन्दर बना हुआ होना आवश्यक है।
  • पहले वर्ष की स्कॉलरशिप लेने के बाद यदि आपने कॉलेज छोड़ दिया है और फिर अगले साल फिर से कॉलेज में प्रवेश लिया है। तब फिर से अप्लाई करने पर आपका फॉर्म रिजेक्ट हो जायेगा।
  • Scholarship Form भरते कुछ गलत जानकारी देने पर भी आपका फॉर्म रिजेक्ट हो जायेगा और आपकी स्कॉलरशिप नहीं आएगी।
  • कई बार ट्रांजेक्शन नहीं होने पर बैंक अकाउंट डीएक्टिवेट या बंद हो जाता है यदि इस वजह से भी स्कालरशिप नहीं आती है। फॉर्म भरने से पहले अपने बैंक अकाउंट से एक ट्रांजेक्शन करके जरूर देखें।
  • आपके द्वारा बैंक अकाउंट नंबर गलत दर्ज करने पर या आईएफएससी कोड गलत भरने पर भी स्कालरशिप नहीं आती है।
  • जो बैंक अकाउंट आपने फॉर्म में दिया है यदि वो किसी और के नाम पर है तो भी स्कालरशिप नहीं आएगी। बैंक अकाउंट आपके नाम से होना आवश्यक है।
  • आपने बैंक का नाम तो दर्ज कर दिया है, लेकिन आपने आईएफएससी कोड किसी और बैंक का दर्ज कर दिया हैं, तो भी आपका फॉर्म रिजेक्ट हो जायेगा।

MP Gaon Ki Beti Yojana FAQ

Q . गांव की बेटी योजना की शुरुआत कब से हुई ?
Ans. गॉव की बेटी योजना ये योजना 2005 में शुरू हुई।

Q . गाँव की बेटी योजना किस किस राज्य में है ?
Ans. दोस्तों ये योजना केवल मध्य प्रदेश में ही लागू की गई है, मध्यप्रदेश के मुख्य मंत्री शिवराज सिंह चौहान ने 2005 में इसकी शुरुआत की।

Q . गांव की बेटी योजना की ऑफिसियल वेबसाइट
Ans. www.scholarshipportal.mp.nic.in/

Q . Gaon Ki Beti Yojana Last Date
Ans. January 2024

यदि आपको यह Gaon Ki Beti Yojana In Hindi की जानकारी पसंद आई या कुछ सीखने को मिला , तब कृपया इस पोस्ट को Social Networks जैसे कि Facebook, Twitter और दुसरे Social Media Sites पर Share कीजिये |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button

Discover more from Invest Kare

Subscribe now to keep reading and get access to the full archive.

Continue reading