Business

माचिस बनाने का बिज़नेस कैसे करे Matchbox  manufacturing Business Hindi Plan In India

माचिस बनाने का बिज़नेस कैसे करे Matchbox  manufacturing Business Hindi Plan In India

How to start a matchbox factory :- Matchbox  की तीलियाँ बहुत फायदेमंद होती हैं और आमतौर पर आग लगाने के लिए इस्तेमाल की जाती हैं। इनका उपयोग रसोई में गैस या मिट्टी के तेल के स्टोव और यहां तक कि कुकर को जलाने के लिए किया जाता है। कुछ अन्य उपयोग हैं जैसे चूल्हा शुरू करना, औद्योगिक बर्नर जलाना, कैम्प फायर, या मोमबत्तियां। माचिस की तीलियाँ प्लास्टिक सामग्री या लकड़ी जैसे कार्डबोर्ड स्ट्रिप्स से बनाई जाती हैं।

माचिस की तीलियों का उपयोग मुख्य रूप से घरेलू कार्यों जैसे खाना पकाने के लिए किया जाता है इसलिए आज माचिस की  इतनी  ज्यादा डिमांड है और इनका बिज़नेस अच्छे लेवल पर हो रहा है और बहुत से लोग इस बिज़नेस के अन्दर लाखो रुपये कमा रहे है तो कोई भी person जो अपना एक छोटा सा बिज़नेस शुरु करना चाहता तो Matchbox Making Business शुरु  कर सकता है और अच्छी कमाई इस बिज़नेस के अन्दर कर सकता है |

माचिस बनाने का बिज़नेस के लिए जरूरी चीजे

Matchbox Manufacturing Business Requirements :- इस बिज़नेस को शुरु करने के लिए बहुत सी चीजो को जरुरत पड़ती है  लेकिन चीज की जरुरत बिज़नेस के आकार पर निर्भर करती है क्योकि ये बिज़नेस छोटे लेवल से शुरु करते है तो ज्यादा चीजो की जरुरत नही पड़ती है और बिज़नेस बड़े लेवल पर शुरु करते है तो बहुत सी Requirements होती है |  

  • इन्वेस्टमेंट (Investment)
  • जमीन (land)
  • बिज़नेस प्लान (Business plan)
  • बिल्डिंग (Building)
  • मशीन (Machine)
  • बिजली, पानी की सुविधा (Electricity, water facilities)
  • कर्मचारी (Staff)
  • कच्चा माल (Raw Material)
  • वाहन (Vehicle)

अब निचे सभी के बारे में विस्तार से बतायेंगे की किस चीज कितनी जरुरत पड़ती है |

Chai Sutta Bar Franchise Hindi 

माचिस  बनाने का बिज़नेस के लिए इन्वेस्टमेंट

Investments For Matchbox Making Business :- इस बिज़नेस के अन्दर निवेश इस Business और जमीन के ऊपर निर्भर करता है क्योकि यदि बड़ा Business शुरु करते है तो ज्यादा इन्वेस्टमेंट (Investment) करनी पड़ती है और छोटा बिज़नेस घर से शुरु करते है (Matchbox  banane ka business ) तो उसके अन्दर कम इन्वेस्टमेंट (Investment) करनी पड़ती है (Matchbox Polish banane ka business )और खुद की जमीन है तो कम पैसो में काम चल सकता है और यदि जमीन किराये पर लेते है या खरीदते है तो उसके अन्दर ज्यादा इन्वेस्टमेंट  (Investment)करनी पड़ती है

और इसके अन्दर मशीन भी कई प्रकार की आती है और सभी के रेट भी अलग अलग है इनके ऊपर भी इन्वेस्टमेंट निर्भर करती है  इनके बाद इस Business को अच्छे लेवल पर शुरु करने के लिए मशीन खरीदनी पड़ती बिल्डिंग बनानी पड़ती है जिसके अन्दर मशीन लगेगी और स्टॉक रखने के लिए सभी चीज के लिए बिल्डिंग फिर बिजली, पानी की सुविधा और कच्चा माल व् वाहन सभी के लिए अलग अलग इन्वेस्टमेंट(Investment) करनी पड़ती है जैसे ;

  • Small Scale :- 3   to 5   lakhs
  • Medium Scale or Large Scale :-  10  To  15 lakhs

माचिस बनाने के बिज़नेस के लिए जमीन Matchbox  manufacturing Business Hindi

 Land For Matchbox Making Business Hindi इसके अन्दर अच्छी जमीन की जरुरत पड़ती है क्योकि इसके अन्दर प्लांट बनाना पड़ता है उसके बाद गोडाउन बनाना पड़ता है और कुछ जमीन पार्किंग के लिए चाहिए  और इस बिज़नेस के लिए उचित स्थान का चयन करना बहुत महत्वपूर्ण है। आपके पास अपने माचिस उत्पादन बिज़नेस के लिए उपयुक्त स्थान होना चाहिए। ऐसे स्थान का चयन करने की अनुशंसा की जाती है जहां संभावित ग्राहक या व्यक्ति और डीलर आसानी से पहुंच सकें।

  • Plant :- 300 Square Feet To 500 Square Feet
  • Godown :-  500 Square Feet To 1000 Square Feet

Total Space :- 1000 Square Feet To 1500 Square Feet

मेडिकल ऑक्सीजन सिलिंडर प्लांट कैसे लगाये

माचिस बनाने के बिज़नेस के लिए मशीन

सेमी आटोमेटिक से फुल आटोमेटिक मशीन आती है आप जिस प्रकार का बुसिनेस करना चाहते है उसी हिसाब से मशीन खरीद सकते |

  • चैन सॉ (Chain Saw): – इस बिज़नेस में इसका इस्तेमाल लकड़ी की कटाई छंटाई इत्यादि के लिए किया जाता है।
  • लाग डीबार्कर (Log Debraker): – इस मशीन का इस्तेमाल लकड़ी से उसकी छाल को हटाने के लिए किया जाता है।
  • विनियर पीलिंग मशीन (Veneer Peeling Machine ): – इस मशीन का इस्तेमाल लकड़ी की मोटी शाखा को एक निश्चित मोटाई की चादर में तब्दील करने के लिए किया जाता है ।
  • विनियर चोप्पिंग मशीन (Veneer Chopping Machine ): – Match Box Manufacturing में इस मशीन का काम बनाई गई लकड़ी की चादर को आवश्यकता के अनुसार तीलियों, छड़ियों या फिर अन्य आवश्यक आयामों में बदलने का होता है।
  • रोटेटिंग ड्रम ड्रायर (Rotating Drum Dryer): – यह गर्म हवा फेंकने वाला एक ड्रायर है जो गर्म हवा के प्रवाह से सामग्री धीरे धीरे सूख जाती है।
  • वैट (Vat): – आवश्यक वस्तुओं की स्टोर करने और होल्ड करने के लिए इसका इस्तेमाल किया जाता है ।
  • फीड हॉपर (Feed Hopper):-
  • परफोर्टेड वेल्ट कन्वेयर (Perforated Belt Conveyor):- इस कन्वेयर बेल्ट में छेद होते है ताकि सामग्री से अवांछित तरल को अलग किया जा सके।
  • खुला केमिकल टैंक (Open Chemical Tank): – इस प्रकार के टैंक का इस्तेमाल केमिकल का भण्डारण करने के लिए किया जाता है।
  • कोटिंग यूनिट के साथ माचिस बनाने की मशीन :- यह एक स्वचालित मशीन होती है जिसका इस्तेमाल Match Box बनाने के लिए किया जाता है जिनमें तीलियाँ रखी जाती हैं।
  • मैचस्टिक फिलिंग मशीन (Matchstick Filling Machine): :- इस मशीन का इस्तेमाल माचिस बॉक्स में माचिस की तीलियाँ भरने के लिए किया जाता है।
  • काउंटिंग एंड पैकेजिंग मशीन :- इस मशीन का इस्तेमाल गणना और पैकेजिंग के लिए किया जाता है।

पीवीसी पाइप बनाने का बिज़नेस

माचिस बनाने के बिज़नेस के लिए कानूनी लाइसेंस और अनुमति दस्तावेज।

अपने माचिस की तीली का प्रोडक्शन शुरू करने के लिए आपको सख्त कानूनी अनुपालनों का पालन करना होगा। व्यापार लाइसेंस सहित, आपको इसे शुरू करने के लिए कानूनी परमिट की आवश्यकता होगी।

  • एसएसआई यूनिट लाइसेंस
  • फर्म पंजीकरण
  • चालू बैंक खाता
  • ट्रेड मार्क
  • पंजीकरण
  • व्यापार लाइसेंस
  • बिजनेस पैन कार्ड

NOC

  • CCOE है जो विस्फोटक विभाग की मंजूरी दस्तावेज है।
  • एक जिला कलेक्टर NOC और पुलिस आयुक्त NOC.
  • PWD की मंजूरी, बिजली बोर्ड, ग्राम पंचायत।
  • अंतिम CCOE लाइसेंस
  • राष्ट्रीय राजमार्ग स्वीकृति
  • अगर वन भूमि तो वनविभाग से NOC.
  • retail license जो optional
  • वजन और माप मुद्रांकन।

माचिस बनाने के बिज़नेस के लिए रॉ मटेरियल

  • पोटेशियम क्लोरेट
  • गंधक
  • स्टार्च
  • गोंद
  • लाल फास्फोरस
  • पाउडर गिलास
  • लकड़ी
  • मोटा कागज
  • रंग प्रिंटर
  • पैकेजिंग पेपर
  • स्टिकर पेपर

नेल पॉलिश बनाने का बिजनेस

माचिस बनाने का बिज़नेस शुरु करने के लिए प्रोसेस

यदि माचिस बनाने के बिज़नेस घर से शुरु करते है तो इसके अन्दर ज्यादा प्रोसेस नही करनी पड़ती है इसमें कच्चे माल के साथ घर पर हाथो से Business  शुरु कर सकते है लेकिन यदि बड़े लेवल पर बिज़नेस करते है तो इसके अन्दर एक प्रोसेस के हिसाब से शुरु  करना पड़ता है जैसे इसके लिए बहुत सी गतिविधिया करनी पड़ती है जैसे area analysis, land selection, project plan, registration, financial Arrangement आदि तो सभी सभी काम एक प्रोसेस के अनुसार करने पड़ते है |  Matchbox Manufacturing Business Hindi

Area Analysis (क्षेत्र विश्लेषण) :- कोई भी बिज़नेस शुरु करना हो तो सबसे पहले एरिया का Analysis करना जरुरी है Area Analysis के अन्दर उस एरिया के अन्दर रिसर्च की जाती है जंहा Business करने की सोच रहे है वंहा सब कुछ पता करना पड़ता है जैसे वंहा पहले से कितने Plant है वह किस प्रकार का प्रोडक्ट बना रहे है उनके प्रोडक्ट का price कितना है क्या आप उस से कम price कर सकते है और कस्टमर की क्या डिमांड है सब कुछ पता करे |

Land Selection (जगह का चयन) :- Area Analysis (क्षेत्र विश्लेषण) करने के बाद लोकेशन सेक्लेक्ट करनी पड़ती है और ध्यान रखे उस लोकेशन पर अच्छी रोड़ की सुविधा और पानी की सुविधा और बिजली सुविधा सभी चीजे होनी चाहिए  Matchbox  items business ideas

Matchbox Ka Business Kaise Shuru Kare

Project Plan (बिज़नेस प्लान):- जब लोकेशन सेलेक्ट की जाये उसके बाद अपना Business  प्लान ready करे और इस प्लान के अन्दर वह सभी चीजे डाले जो Business  के अन्दर करनी होती है   जैसे कितनी इन्वेस्टमेंट करनी पड़ेगी कौन कौन सी मशीन लेके आनी पड़ेगी कौन कौन प्रोडक्ट बनायेंगे ऐसे सभी चीजे बिज़नेस प्लान के अन्दर ऐड होना चाहिए |   

Financial Arrangement (वित्तीय व्यवस्था) :- जब Business  प्लान ready हो जाये उसके बाद  Financial Arrangement करनी पड़ती है क्योकि इन्वेस्टमेंट के बिना कुछ नही किया जा सकता है |

License & Registration:-  जब इन्वेस्टमेंट हो जाये तो उसके बाद लाइसेंस के लिए अप्लाई करे क्योकि Matchbox  Manufacturing करके एक ब्रांड के नाम से बेचनी है तो इसके लिए लाइसेंस  होना चाहिए

Machinery Purchasing:-  जब Business  के लिए लाइसेंस मिल जाये उसके बाद Business  के लिए मशीन खरीदे क्योकि मशीनरी के बिना कोई Business नही किया जा सकता है |

Electricity Fitting and Machinery Installation :-  मशीनरी लेने के बाद उनके लिए  Electricity Fitting  करे और फिर मशीन लगाये |

Worker Hire :- सभी चीजे करने के बाद अपने Business  के हिसाब से वर्कर लेके आये उसके बाद अपना Business  शुरु कर सकते है |

पीवीसी पाइप बनाने का बिज़नेस 

माचिस बनाने के बिज़नेस की मार्केटिंग Matchbox  manufacturing Business Hindi

Matchbox  Making Business Marketing :- कोई भी प्रोडक्ट बनाये उसकी मार्केटिंग करना जरुरी है क्योकि कस्टमर को प्रोडक्ट के बारे में पता ही नही होगा तो खरीदेंगे कंहा कैसे इस मार्केटिंग के लिए बजट जरुर रखना चाहिए और मार्केटिंग कई प्रकार से कर सकते है और ज्यादा सेल के लिए बड़े  किराना स्टोर पर फ्री सैंपल दे Matchbox  Making Business Hindi ) और अच्छी मार्केटिंग करे और टीवी पर ad लगवा सकते है |

माचिस बनाने का Business के लिए लोन

Loan for Matchbox  Making  Business यदि Matchbox  Making  Business घर से शुरु करते है तो इसके लिए लोन की जरुरत नही है लेकिन यह Business  बड़े लेवल पर करते है तो इसके लिए लोन ले सकते है  भारत सरकार कि तरफ से लोगो को व्यापार करने के लिए “मुद्रा लोन” दिया जा रहा है जिसमे आप Matchbox  Making   का Business करने के लिए भी Mudra Loan के सकते है इसके लिए आपको इनके ऑफिस जाना पड़ेगा और अपने बिज़नेस की डिटेल देनी है आपको Matchbox  Making   बनाने के business में किन चीजों कि जरुरत है उसके बारे में विवरण देना होगा और उन चीजों को खरीदने के लिए कितने पैसो कि जरुरत पड़ेगी यह भी लिखना होगा उसके बाद आपको अपना आवेदन सबमिट करना होगा Matchbox  business in india

बस ट्रांसपोर्टेशन बिज़नेस कैसे शुरु करे

यदि आपको यह Matchbox  manufacturing Business Hindi की जानकारी पसंद आई या कुछ सीखने को मिला तब कृपया इस पोस्ट को Social Networks जैसे कि Facebook, Twitter और दुसरे Social media sites share कीजिये |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button