म्यूचुअल फण्ड पोर्टफोलियो कैसे बनाएं Mutual Fund Portfolio Hindi

म्यूचुअल फण्ड पोर्टफोलियो कैसे बनाएं Mutual Fund Portfolio Hindi

म्यूचुअल फंड जैसे बाजार से जुड़े Products में निवेश करते समय, पोर्टफोलियो risk को manage करने के लिए विविधीकरण एक अत्यंत उपयोगी Tool हो सकता है  इसलिए बहुत से लोग म्यूचुअल फण्ड के अन्दर इन्वेस्टमेंट करते है क्योकि बहुत से लोग इन्वेस्टमेंट करते समय रिस्क लेना नही चाहते है इसलिए कुछ अच्छे म्यूचुअल फण्ड के अन्दर इन्वेस्टमेंट करते है

लेकिन सबसे बड़ी समस्या म्यूचुअल फण्ड सेलेक्ट करने में आती है की किस म्यूचुअल फण्ड में इन्वेस्टमेंट की जाये  किसी भी निवेशक के लिए उसका बेस्ट म्यूचुअल फंड पोर्टफोलियो अनेक चीजों पर निर्भर करता हैं जैसे कि निवेशक की उम्र, रिस्क लेने की क्षमता, गोल्स, निवेश की अवधि आदि। अगर आप इन सब पॉइंट्स को लेकर क्लियर हो तो आप आसानी से अपने लिए बेस्ट म्यूचुअल फंड पोर्टफोलियो बना सकते हैं।

2022 में खरीदने के लिए 5 शेयर 

पोर्टफोलियो बनाते समय किन बातों का ध्यान रखें?

What are the things to keep in mind while creating a portfolio? :-

  • एक ही Mutual funds केटेगरी के एक से अधिक फण्ड अपने पोर्टफोलियो में ना रखें। ऐसा करने से फंड ओवरलैपिंग की समस्या हो सकती हैं। फण्ड ओवरलैप यानि की अलग-अलग म्यूचुअल फण्ड स्कीम्स में समान स्टॉक्स की उपलब्धता। फण्ड ओवरलैपिंग को आप इस लिंक पर जाकर चेक भी कर सकते हैं – Fund Overlapping
  • कभी भी म्यूचुअल फण्ड ख़रीदते समय आप सिर्फ Absolute रिटर्न नहीं देखें। इसकी जगह आपको Annualized रिटर्न देखने चाहिए। साथ ही आप फण्ड के रोलिंग रिटर्न्स भी देख सकते हैं जिसमें आप पांच 5-5 वर्ष के अंतराल में फंड के रिटर्न चेक कर सकते हैं।
  •  इक्विटी Mutual funds में हमेशा लंबी अवधि के लिए investment करना चाहिए। निवेश की अवधि न्यूनतम 5 वर्ष तो होनी ही चाहिए।
  • आपको अपने Mutual funds पोर्टफोलियो में अधिकतम 3 से 5 फण्ड ही रखने चाहिए। साथ में यह फंड अलग-अलग कैटेगरी के होने चाहिए। समान केटेगरी की एक से अधिक स्कीम होने से पोर्टफोलियो में फण्ड ओवरलैप हो सकता हैं।
  • अपने Mutual funds पोर्टफोलियो को आपको एक वर्ष में एक बार तो रिव्यू करना ही चाहिए। इससे आप अपने स्कीम्स के प्रदर्शन को लेकर सुनिश्चित हो सकते हैं। इसमें आपको देखना चाहिए कि आपकी स्कीम कैसा प्रदर्शन कर रही हैं, फंड मैनेजर में कोई बदलाव तो नहीं हुआ हैं आदि।

₹1 से कम कीमत वाले शेयर जो करोडपति बनायेंगे

म्यूच्यूअल फण्ड पोर्टफोलियो

आज हर म्यूच्यूअल फण्ड कंपनी के पास कई अलग अलग म्यूच्यूअल फण्ड स्कीम उपलब्ध है – जैसे :-

  1. Equity fund
  2. Debt fund
  3. Balanced or hybrid fund
  4. Sectoral fund
  5. Industries fund.
  6. Index fund.
  7. Small cap fund
  8. Large cap fund
  9. Mid cap fund

इसी तरह से और भी बहुत सारे अलग अलग म्यूच्यूअल फण्ड स्कीम हर, म्यूच्यूअल फण्ड कंपनी के पास ऐसी योजना उपलब्ध है, समझने वाली बात ये है कि – हर म्यूच्यूअल फण्ड स्कीम का अपना एक ऑब्जेक्टिव यानि उद्देश्य होता है,

म्यूचुअल फण्ड पोर्टफोलियो कैसे बनाएं?

How to Build a Mutual Fund Portfolio? :- म्यूचुअल फंड पोर्टफोलियो बनाने के लिए मैं आपको अलग-अलग ages, के अनुसार पोर्टफोलियो  बना सकते है जैसे ;-

1. यदि आप 20 साल की उम्र में इन्वेस्टमेंट शुरु करना चाहते है तो आप  थोडा बहुत रिस्क ले सकते है यानी Aggressive portfolio बना सकते है और आप ₹1000 या ₹5,000 रुपए प्रति महीना ही निवेश कर सकते हैं तो आप इन पैसों को सिर्फ एक फ्लेक्सी कैप फंड में इन्वेस्ट कर सकते हैं।

₹1,000 स्मॉल कैप फण्ड
₹2,000 फ्लेक्सी कैप / मल्टी कैप फण्ड
₹1,000 मिड कैप फण्ड
₹1,000 ELSS फण्ड / ब्लू चिप फण्ड

अब इनमे आप अपने हिसाब से इन्वेस्टमेंट कर सकते है जैसे यदि आप टैक्स बचाने के लिए निवेश करना चाहते हैं तो आप ELSS केटेगरी में निवेश कर सकते हैं अन्यथा आप ब्लूचिप फंड या लार्ज  कैप फंड में भी इन्वेस्ट कर सकते हैं।

2. यदि आप 30 से 40 वर्ष की उम्र में इन्वेस्टमेंट करना चाहते है और आपकी अच्छी कमाई है तो  आपको एक बैलेंस पोर्टफोलियो बनाना होता हैं जिसमें रिस्क और रिवॉर्ड का अच्छा तालमेल हो मन लो आप ₹10,000 रुपए प्रति महीना ही निवेश कर सकते हैं |

₹2,000 स्मॉल कैप फण्ड
₹5,000 फ्लेक्सी कैप / मल्टी कैप फण्ड
₹1,000 ब्लू चिप फण्ड
₹2,000 ELSS फण्ड

अब इनमे आप अपने हिसाब से इन्वेस्टमेंट कर सकते है जैसे आपको टैक्स सेविंग विकल्प की जरूरत नहीं हैं तो आप ₹2,000 प्रति माह मिड कैप फंड में निवेश कर सकते हैं। यदि आप थोड़ी कम रिस्क उठाना चाहते हैं तो थोड़ा फ्लेक्सी कैप या मल्टीकैप में कम करके ब्लूचिप फंड में निवेश कर सकते हैं। Mutual Fund Portfolio Hindi

कमोडिटी ट्रेडिंग क्या है कैसे शुरु करे

3.  यदि आप 40 से 50 वर्ष की उम्र में इन्वेस्टमेंट करना चाहते है तो  आपको इक्विटी के साथ-साथ में अन्य सेफ इन्वेस्टमेंट विकल्पों में भी निवेश करना चाहिए  मन लो आप ₹10,000 रुपए प्रति महीना ही निवेश कर सकते हैं |

₹2,000 ब्लू चिप फण्ड
₹4,000 फ्लेक्सी कैप / मल्टी कैप फण्ड
₹2,000 मिड कैप फण्ड
₹2,000 ELSS फण्ड

यदि आप  टैक्स सेविंग की जरुरत नही हा तो तो आप ELSS फण्ड को किसी अच्छे हाइब्रिड फंड से बदल सकते हैं।

4.  यदि आप 50 से 60 वर्ष की उम्र में इन्वेस्टमेंट करना चाहते है तो  आप अपने पैसों के साथ ज्यादा रिस्क नहीं उठा सकते। इसलिए आपको ऐसे फंड्स में निवेश करना चाहिए जिनमें रिस्क नही है  इस उम्र में यदि आप ₹10,000 प्रति माह निवेश कर रहे हैं तो आप अपना एसेट लोकेशन इस प्रकार कर सकते हैं

₹5,000 ब्लू चिप फण्ड
₹2,000 फ्लेक्सी कैप / मल्टी कैप फण्ड
₹3,000 हाइब्रिड फण्ड

यदि आपको टैक्स बचाने के लिए निवेश करना हैं तो आप हाइब्रिड फंड की जगह ELSS फण्ड भी खरीद सकते है |

यदि आपको यह Mutual Fund Portfolio Hindi 2022 Hindi की जानकारी पसंद आई या कुछ सीखने को मिला तब कृपया इस पोस्ट को Social Networks जैसे कि Facebook, Twitter और दुसरे Social media sites share कीजिये.  Mutual Fund Portfolio Hindi

You might also like