Business

रेशम का बिजनेस कैसे शुरू करें How to Start Silk Business Hindi

रेशम का बिजनेस कैसे शुरू करें How to Start Silk Business Hindi

कोई भी बिजनेस जो हम शुरू करते है उसके बारें में हमें औद्योगिक जानकारी का होना बहुत जरुरी है | आज हम यहाँ रेशम के उद्योग से संबंधित जानकारी देंगे | कृषि और अन्य कार्यों के साथ-साथ कई ऐसे उद्योग हैं, जिनसे आप अच्छा पैसा कमा सकते हैं। जिनमें अधिक लागत की आवश्यकता नहीं होती है। रेशम उद्योग को भी इसी कड़ी में रखा गया है। यह एक ऐसा व्यवसाय है जिसमें रेशमकीट पालन कर रेशम का उत्पादन किया जा सकता है। इससे बहुत अच्छा मुनाफा कमाया जा सकता है। यह एक कृषि आधारित उद्योग है।

थर्ड पार्टी बाइक इंश्योरेंस क्या है 

भारत में बहुत से लोग इस उद्योग से अपना जीवन यापन कर रहे हैं। मुख्य रूप से मालवांचल और होशंगाबाद क्षेत्र में मुख्य रूप से उद्योग विभाग के तहत गतिविधियाँ शुरू की गईं। वर्ष 1977 से अगस्त 1984 तक, गतिविधियाँ मध्य प्रदेश राज्य वस्त्र निगम के नियंत्रण में थीं। 1 सितंबर, 1984 को पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग के तहत एक अलग रेशम निदेशालय का गठन किया गया। ग्रामोद्योग विभाग का गठन 1986 में किया गया था और रेशम विभाग 1986 से ग्रामोद्योग विभाग के अधीन कार्य कर रहा है।

रेशम उद्योग क्या होता है ?

यह एक प्रकार का महीन चमकदार रेशे होता है जिससे कपड़े बुने जाते हैं। यह फिलामेंटस सेल में रहने वाले कीड़ों से तैयार किया जाता है। रेशम के उत्पादन के लिए रेशम के कीड़ों को पालना पड़ता है। व्यवसायिक रूप से रेशम का उत्पादन करने की प्रक्रिया को ही रेशम उद्योग ( Sericulture Business ) कहा जा सकता है । रेशम के कपड़े सभी लोगों के लिए बहुत ही आरामदायक होते हैं। रेशमी कपड़े सुंदरता को बढ़ाते हैं।

रेशम की किस्में :

  • शहतूती रेशम
  • गैर शहतूती रेशम
  • एरी या अरंडी रेशम
  • मूंगा रेशम
  • ओक तसर रेशम
  • तसर (कोसा) रेशम

रेशम उद्योग की विशेषताएं

  • रेशम उद्योग कृषि पर आधारित कुटीर उद्योग है |
  • इस उद्योग को ग्रामीण क्षेत्र में कम लागत में शुरु कर सकते है. इससे जल्दी उत्पादन प्रारंभ होता है |
  • इस उद्योग को कृषि एवं अन्य घरेलू कार्यों के साथ भी अपना सकते है. खास बात है कि इस उद्योग से महिलाएं अपने खाली समय का सदुप्रयोग कर सकती है |
  • इसको सुखोनमुख क्षेत्रों में आसानी से किया जा सकता है | इससे अच्छी आय की प्राप्ती होती है |

स्कूल ड्रेस निर्माण बिजनेस

ऐसे करें रेशम उद्योग Silk Business Hindi

रेशम उद्योग करने के लिए बहुत सी ऐसी बाते हैं जिनका ख़ास ध्यान रखा जाता है | कीटों को कमरे के अंदर पाला जाता है और सबसे पहले शहतूत के बैग लगाएं | इससे कीटों को खाने के लिए पत्तियां मिलती रहती है | साथ ही कमरों में स्वच्छ हवा और रोशनी की  व्यवस्था होनी चाहिए | इसके अलावा कमरे में लकड़ी की तिपाईयों के ऊपर ट्रे रखकर उसमें इनकी रिपरिंग करते हैं | ध्यान रहे कि तिपाइयों को चीटियों से बचाने के लिए पायों के नीचे एक बर्तन में पानी भरकर रख दें , साथ ही कीटों को रोजाना साफ करते रहें |

रेशम का बिजनेस करने के लिए जरूरी चीजें Silk Business Hindi

Requirements for How to Start Silk Business :- कोई भी बिजनेस हो फिर वह चाहे बड़े स्तर का हो या छोटे स्तर का उनको शुरू करने से पहले उनसे संबंधित बातों का ध्यान रखना बहुत जरूरी होता है | छोटे या बड़े स्तर के बिजनेस के लिए आपके पास क्या क्या होना चाहिए | इस सब में आप कितना इन्वेस्ट करेंगे और उसके बाद इस से आप कितना मुनाफा कमाएंगे | आपके लिए इन सब बातों को जानना बहुत जरूरी है क्योंकि ये सब जानकारी आपके लिए आपको बिजनेस शुरू करने में काफी फायदेमंद होगी :

  • जगह ( Shop )
  • मशीन ( Machines )
  • कच्चा माल ( Raw Material )
  • इन्वेस्टमेंट (Investment)
  • कर्मचारी ( Worker )
  • GST Number
  • मार्केटिंग ( Marketing )
  • प्रॉफिट ( Profit )

जूट बैग मैन्युफैक्चरिंग बिजनेस 

रेशम का बिजनेस करने के लिए जगह

Space for How to Start Silk Business :- कोई भी बिजनेस हो या फिर कोई भी शॉप हो जो आप अपने बिजनेस के लिए करना चाहते है | उसकी सबसे महत्वपूर्ण बात यह है की आप बिजनेस को किस स्तर से शुरू करना चाहते है अगर आप अपना बिजनेस को छोटे स्तर से शुरू करते है तो आप कम निवेश के साथ काम शुरू कर सकते है और अगर आप बड़े स्तर से बिजनेस शुरू करते है तो आपको इसमें अधिक निवेश करने की आवश्यकता होगी |

जगह  ( Space ) :- 300 से 400 Square Feet

रेशम का बिजनेस करने के लिए मशीन

Machine for How to Start Silk Business :- उत्तर प्रदेश के बहराइच में सरकार ने धागा बनाने वाली मशीन किसानों को दी है | इस मशीन से न सिर्फ उच्च क्वालिटी का धागा तैयार होगा जिससे किसानों की आय बढ़ेगी बल्कि अब किसानों का श्रम भी कम खर्च होगा | 46 लाख की लागत कि यह मशीन रेशम विभाग के कल्पीपारा कार्यालय में स्थापित की गई है जहाँ किसानों का समूह अपना कोया लाकर खुद धागा निकाल सकता है | अनुमान है कि इससे किसानों की आमदनी ढाई गुना तक बढ़ जाएगी |

रेशम का बिजनेस करने के लिए कच्चा माल Silk Business Hindi

Raw Material for How to Start Silk Business :- अगर हम कोई ऐसा बिजनेस शुरू करते है जिसमे किसी वस्तु की  मैन्युफैक्चरिंग की जाती है तो उसमे कच्चे माल की आवश्यकता अवश्य होती है | भारत में रेशम उद्योग को एक प्रमुख कुटीर उद्योग का दर्जा मिला है | रेशम के कीड़े पालने के लिए शहतूत , गूलर , पलाश आदि के वृक्ष लगाना , कीड़े पालना , रेशम को साफ करना , सूत बनाना , कपड़ा बनाना आदि का कार्य शामिल है | ग्रामीण क्षेत्र में इस व्यवसाय को आसानी से शुरु किया जा सकता है | कुछ अन्य वस्तुएं जो इसमें प्रयोग की जाती है :-

  • तिपाइयां (बांस की लकड़ियाँ)
  • जाल – ( कपड़े के छोटे-छोटे जाल, जिससे बची पत्तियां तथा कीड़ों के मल को साफ किया जाता है)
  • पत्तियां काटने के लिए चाकू की आवश्यकता होती है.
  • आद्रतामापी की जरुरत
  • ऊष्मा उत्पादक ए कूलर

एयर बबल शीट बनाने का बिजनेस

रेशम का बिजनेस करने के लिए इन्वेस्टमेंट

Investment for How to Start Silk Business :- इस बिज़नेस के अन्दर निवेश इस Business और जमीन के ऊपर निर्भर करता है क्योकि यदि बड़ा Business शुरु करते है तो ज्यादा इन्वेस्टमेंट करनी पड़ती है और छोटा बिज़नेस  शुरु करते है , तो उसके अन्दर कम इन्वेस्टमेंट (Investment) करनी पड़ती है और खुद की जमीन है तो कम पैसो में काम चल सकता है | यदि जमीन किराये पर लेते है या खरीदते है तो उसके अन्दर ज्यादा इन्वेस्टमेंट (Investment) करनी पड़ती है |

और इसके अन्दर मशीन भी कई प्रकार की आती है और सभी के रेट भी अलग अलग है | इनके ऊपर भी इन्वेस्टमेंट निर्भर करती है  आपको इस Business को अच्छे लेवल पर शुरु करने के लिए आपको इसमें उपयोग होने वाले कारकों जैसे जगह , कच्चा माल की मात्रा को बढ़ाकर आप इसका उत्पादन बढ़ा सकते है |

लागत ( Investment ) :- 8 से 10 लाख रूपये |

रेशम का बिजनेस करने के लिए कर्मचारी Silk Business Hindi

Workers for How to Start Silk Business :- अगर आप चाहे तो इसे किसी भी प्रकार की कर्मचारियों की सहायता के शुरू कर सकते है क्योंकि यह एक छोटे स्तर का उद्योग है | इसमें कर्मचारियों की आवश्यकता सिर्फ आपके बिजनेस के स्तर को देख कर निर्धारित की जा सकती है की आप अपना बिजनेस कितना बड़ा या छोटा करते है | अगर आपके बिजनेस का स्तर छोटा है तो आप इसे अपने घर से भी शुरू कर सकते है | आप इसमें चाहे तो अपने घर के सदस्यों के साथ मिलकर भी इस बिजनेस को शुरू कर सकते है |

बैंक्वेट हॉल बिजनेस कैसे शुरू करें

रेशम का बिजनेस करने के लिए प्रॉफिट

Profit for How to Start Silk Business :- Sericulture Business शुरू करने का यह एक बहुत ही महत्वपूर्ण घटक है क्योंकि इस प्रक्रिया में उद्यमी को अपने बिजनेस के लिए रेशम के कीटों की एक ऐसी नस्ल का चुनाव करना होता है। जिसकी उत्पादक क्षमता अधिक हो यद्यपि भारत में अनेकों नस्ल के रेशम के कीटों का पालन जलवायु एवं भौगौलिक परिस्थितियों के हिसाब से किया जाता है। भारत में मुलबेरी, तस्सर, ओक तस्सर, एरी, मुगा इत्यादि नस्लों के रेशम कीटों का पालन किया जाता है। इस से होने वाले लाभ के बारे में नीचे बताया गया है :-

  • रोजगार मिलेगा |
  • ग्रामीण अर्थव्यवस्था में सुधार होगा |
  • कम लागत और समय में ज्यादा आय होगी |
  • महिलाओं के लिए अच्छा व्यवसाय माना जाता है |

यदि आपको यह Start Silk Business in Hindi की जानकारी पसंद आई या कुछ सीखने को मिला , तब कृपया इस पोस्ट को Social Networks जैसे कि Facebook, Twitter और दुसरे Social Media Sites पर Share कीजिये | Silk Business Hindi

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button