Business

स्टेशनरी दुकान कैसे खोले Stationery Shop Business Hindi

स्टेशनरी दुकान कैसे खोले Stationery Shop Business Hindi

भारत में शिक्षा की तरफ लोगो की जागरूकता बढ़ रही है परिणामस्वरूप, हर साल स्कूलों और कॉलेजों की संख्या भी बढ़ रही है। इस विकास ने पूरे देश में स्टेशनरी वस्तुओं की भारी मांग पैदा की है और इस डिमांड के कारण आज बहुत सी कंपनी है जो Stationery प्रोडक्ट का प्रोडक्शन करती है और करोड़ों का कारोबार कर रही है

और आने वाले समय में इसकी डिमांड कभी कम नही होगी क्योकि जैसे जैसे जनसँख्या बढ़ेगी वैसे वैसे घर ,स्कूल ऑफिस के अन्दर स्टेशनरी प्रोडक्ट की डिमांड बढ़ेगी इसलिए यदि कोई  भी छोटा सा बिज़नेस शुरु करना चाहते है तो Stationery Shop Business शुरु कर सकते है और छोटी सी इन्वेस्टमेंट में बिज़नेस शुरु करके अच्छे पैसे कमा सकते है |Stationery wholesale business plan

ये भी देखे :- हार्डवेयर शॉप कैसे खोले

स्टेशनरी सामान की दुकान बिज़नेस के लिए जरूरी चीजे

 Stationery Shop Business Requirements :- इस Business को शुरु करने के लिए बहुत सी चीजो को जरुरत पड़ती है  लेकिन चीज की जरुरत Business के आकार पर निर्भर करती है क्योकि  बड़े लेवल पर बड़ा बिज़नेस शुरु करते है तो ज्यादा इन्वेस्टमेंट करनी पड़ती है और यदि छोटी शॉप के साथ  छोटा बिज़नेस शुरु करते है तो कम इन्वेस्टमेंट करनी पड़ती है |

  • इन्वेस्टमेंट (Investment)
  • Shop & Godown
  • GST Number

स्टेशनरी आइटम के प्रमुख प्रकार  stationery shop items list

Types of Stationary Items in Hindi :- Stationary Items को इनके उपयोग के आधार पर प्रमुख रूप से तीन भागों में विभाजित किया जा सकता है। जिनका संक्षिप्त विवरण कुछ इस प्रकार से है।

सामान्य स्टेशनरी आइटम :-  ऐसे स्टेशनरी आइटम से है जिनका उपयोग सामान्य इस्तेमाल में किया जाता है । इनमें मुख्य तौर पर पेन, पेन्सिल, इरेज़र, लिफाफे, नोटपैड इत्यादि शामिल हैं।

प्रिंटिंग स्टेशनरी आइटम  :- प्रिंटिंग स्टेशनरी आइटम का इस्तेमाल प्रिंटिंग करने के लिए किया जाता है। इसमें A4 Size Paper, Bond Paper, Printer Cartridge, Printer Ink इत्यादि शामिल है।

कंप्यूटर स्टेशनरी आइटम :- कंप्यूटर स्टेशनरी आइटम से हमारा आशय ऐसे स्टेशनरी आइटम से है जिनका इस्तेमाल कंप्यूटर में किया जाता है। इनमें मुख्य तौर पर पैन ड्राइव, सीडी, डीबीडी, माउस पैड इत्यादि शामिल हैं।

स्टेशनरी सामान शॉप बिज़नेस के लिए इन्वेस्टमेंट

Investments For  Stationery Shop Business :- इस बिज़नेस के अन्दर निवेश इस Business और जमीन के ऊपर निर्भर करता है क्योकि यदि बड़ा Business शुरु करते है तो ज्यादा इन्वेस्टमेंट (Investment) करनी पड़ती है और छोटा बिज़नेस घर से शुरु करते है (Stationery Shop Business hindi ) तो उसके अन्दर कम इन्वेस्टमेंट (Investment) करनी पड़ती है (Stationery Shop Business hindi )और खुद की जमीन है तो कम पैसो में काम चल सकता है और यदि जमीन किराये पर लेते है या खरीदते है तो उसके अन्दर ज्यादा इन्वेस्टमेंट  (Investment)करनी पड़ती है |

  • Shop & Godown Cost :-Around Rs. 2 Lakhs To Rs. 5  Lakhs (किराये पर भी ले सकते है )
  • Other Cost :- Around Rs. 1 Lakhs To Rs. 2 Lakhs

Total Investment :- Around Rs. 2  Lakhs To Rs. 5 Lakhs  (यदि खुद की दुकान और गोदाम और साधन है )

स्टेशनरी सामान शॉप बिज़नेस के लिए जमीन

Land For Stationery Shop Business Hindi :-  इसके अन्दर ज्यादा जमीन की जरुरत नही पड़ती है क्योकि इसके अन्दर न ज्यादा बड़ी दुकान बनानी पड़ती है ( Stationery Shop Business kaise kare ) उसके बाद नही ही इतना बड़ा गोडाउन बनाना पड़ता है  लेकिन ध्यान रखे बड़े बजट पर Stationery शॉप  को करना चाहते है तो शहर के खास मार्केट में या इसके आसपास ऐसी जगह पर जहां से लोगों का काफी आना जाना होता है, ऐसी जगह पर शाॅप खोले, जिससे आते जाते लोगों की निगाह दुकान पर पड़े और कस्टमर आसानी से आ सके और सामान खरीद सके

Shop :- 200 Square Feet To 300 Square Feet

स्टेशनरी सामान शॉप बिज़नेस शुरु करने के लिए प्रोसेस

यदि Stationery Shop  Business छोटे लेवल से शुरु करते है तो इसके अन्दर ज्यादा प्रोसेस नही करनी पड़ती है  लेकिन यदि बड़े लेवल पर बिज़नेस करते है तो इसके अन्दर एक प्रोसेस के हिसाब से शुरु  करना पड़ता है जैसे इसके लिए बहुत सी गतिविधिया करनी पड़ती है जैसे area analysis, land selection,  registration, financial Arrangement आदि तो सभी सभी काम एक प्रोसेस के अनुसार करने पड़ते है |  

Area Analysis (क्षेत्र विश्लेषण) :- कोई भी बिज़नेस शुरु करना हो तो सबसे पहले एरिया का Analysis करना जरुरी है Area Analysis के अन्दर उस एरिया के अन्दर रिसर्च की जाती है जंहा Business करने की सोच रहे है वंहा सब कुछ पता करना पड़ता है जैसे वंहा पहले से कितने Plant है वह किस प्रकार का प्रोडक्ट बना रहे है उनके प्रोडक्ट का price कितना है क्या आप उस से कम price कर सकते है और कस्टमर की क्या डिमांड है सब कुछ पता करे |

Land Selection (जगह का चयन) :- Area Analysis (क्षेत्र विश्लेषण) करने के बाद लोकेशन सेक्लेक्ट करनी पड़ती है और ध्यान रखे उस लोकेशन पर अच्छी रोड़ की सुविधा और पानी की सुविधा और बिजली सुविधा सभी चीजे होनी चाहिए और अच्छी खासी जमीन होनी चाहिए यदि आपके पास ऐसी लोकेशन पैर खुद की जमीन है  तो बिलकुल सही है लेकिन आपके पास ऐसी लोकेशन नही है तो ऐसी जमीन देखे जंहा जमीन सस्ती मिल जाये और सभी सुविधा उस जमीन पर मिल जाये  business ideas hindi 

Stationery Shop Kaise Shuru Kare

Project Plan (बिज़नेस प्लान):- जब लोकेशन सेलेक्ट की जाये उसके बाद अपना Business  प्लान ready करे और इस प्लान के अन्दर वह सभी चीजे डाले जो Business  के अन्दर करनी होती है   जैसे कितनी इन्वेस्टमेंट करनी पड़ेगी कौन कौन  प्रोडक्ट रखे जायेंगे |

Financial Arrangement (वित्तीय व्यवस्था) :- जब Business  प्लान ready हो जाये उसके बाद  Financial Arrangement करनी पड़ती है क्योकि इन्वेस्टमेंट के बिना कुछ नही किया जा सकता है |

License & Registration:-  जब इन्वेस्टमेंट हो जाये तो उसके बाद लाइसेंस के लिए अप्लाई करे उसके बाद अपना Business  शुरु कर सकते है |

Stationery Shop शॉप बिज़नेस के लिए जरुरी डॉक्यूमेंट

Document For Stationery Shop Business :- कोई भी Business  शुरु करते है तो कुछ पर्सनल डॉक्यूमेंट की जरुरत पड़ती है और कुछ Business  से सबंधित लाइसेंस की जरुरत पड़ती है

Personal Document (PD) :- Personal Document के अन्दर बहुत से डॉक्यूमेंट होते है जैसे :

  • ID Proof :- Aadhaar Card , Pan Card , Voter Card
  • Address Proof :- Ration Card , Electricity Bill ,
  • Bank Account With Passbook
  • Photograph Email ID , Phone Number ,
  • Other Document  
  • GST Number

स्टेशनरी सामान शॉप के लिए समान कहाँ से खरीदे?

Where to Buy Stationery item  :- यदि आप Stationery item का बिज़नेस के लिए Stationery item  खरीदना चाहते है तो इसके लिए सीधा फैक्ट्री से लाइट खरीदे और फैक्ट्री से न खरीदना चाहे तो इसके लिए आज Delhi, Calcutta, Mumbai, Hyderabad जैसे बड़ी सिटी के अन्दर बहुत सी मार्किट है जंहा से आप Stationery item बहुत सस्ते रेट में मिल जाते है ऐसे लगभग सभी सिटी के अन्दर ऐसी मार्किट मिल जायगी वंहा से प्रोडक्ट खरीद सकते है  क्यों के अगर आपको सही दाम पे माल मिलेगा तभी आप ग्राहक सही दाम पे सामान उपलब्ध करा सकेंगे। इसलिए सही सप्लायर या होलसेलर का पता लगाने के लिए आप इस धंधे से जुड़े लोगों से  ज़्यादा से ज़्यादा जानकारी लें |Stationery wholesale business plan

स्टेशनरी शॉप बिज़नेस  के अन्दर प्रॉफिट stationery business profit margin

Profit Margin In Stationery item business :- इस बिज़नेस के अन्दर 50 % से 60% से ज्यादा प्रॉफिट मार्जिन मिलता है तो इस हिसाब से इस बिज़नेस के अन्दर अच्छे पैसे कमा सकते है यदि आपको अच्छी शॉप मिल जाये तो अच्छे रेट पर सामान मिल जाता है और अच्छे पैसे कमा सकते है और जितनी ज्यादा सेल उतना ज्यादा प्रॉफिट होगा इस कोसिस करे की ज्यादा से ज्यादा कस्टमर आये

स्टेशनरी शॉप बिज़नेस मार्केटिंग

Marketing of Stationery item  Business :- किसी भी Business के लिए मार्केटिंग की भी जरूरत होती है Stationery itemकी मार्केटिंग के लिए सबसे अच्छा तरीका है पब्लिसिटी के लिए लोकल टीवी पर एड चलाएं. पेपर में एड दें. कलर पेपर पर बढ़िया सा पम्पलेट छपवाकर शहर में बटवाएं. ऐसे बहुत से तरीके है जिस से मार्केटिंग कर सकते है शॉप के भर सेल्स मैन भी रख सकते है जिस से कस्टमर को आपकी दुकान के बारे में पता चले  | bijli ke saman ka business

स्टेशनरी शॉप बिज़नेस के लिए लोन

Stationery item Business Loan यदि Stationery item Business घर से शुरु करते है तो इसके लिए लोन की जरुरत नही है लेकिन यह Business  बड़े लेवल पर करते है तो इसके लिए लोन ले सकते है  भारत सरकार कि तरफ से लोगो को व्यापार करने के लिए “मुद्रा लोन” दिया जा रहा है जिसमे आप Stationery item Business  करने के लिए भी Mudra Loan के सकते है इसके लिए आपको इनके ऑफिस जाना पड़ेगा और अपने बिज़नेस की डिटेल देनी है आपको Staple Pin बनाने के business में किन चीजों कि जरुरत है उसके बारे में विवरण देना होगा और उन चीजों को खरीदने के लिए कितने पैसो कि जरुरत पड़ेगी यह भी लिखना होगा उसके बाद आपको अपना आवेदन सबमिट करना होगा Stationery item business ideas

यदि आपको यह Stationery Shop Business ideas की जानकारी पसंद आई या कुछ सीखने को मिला तब

कृपया इस पोस्ट को Social Networks जैसे कि Facebook, Twitter और दुसरे Social Media Sites Share कीजिये

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button