Business

कृषि उपकरण बनाने का बिजनेस Agriculture Equipment Making Buissnes Hindi

कृषि उपकरण बनाने का बिजनेस Agriculture equipment manufacturing Business Hindi

Agriculture equipment manufacturing business plan pdf :- भारत एक कृषि प्रधान देश है | राष्ट्रीय कृषि और ग्रामीण विकास बैंक (नाबार्ड) की एक रिपोर्ट के अनुसार , देश में 10.07 करोड़ परिवार खेती पर निर्भर हैं। यह संख्या देश के कुल परिवारों का 48 फीसदी है। जिसके कारण यहां बड़े पैमाने पर कृषि का कार्य होता है। तथा भारत की जनसंख्या का एक बड़ा भाग कृषि करके अपना जीवन यापन करता है।

 

ब्रिजस्टोन टायर डीलरशिप कैसे ले

परंतु आज के समय में भारत के किसानों की स्थिति बहुत अच्छी नहीं है किसानों की इस स्थिति को आज अच्छा करने के लिए सरकार ने भी कई महत्वपूर्ण योजनाओं की शुभारंभ किया है जैसे भारत के कई राज्यों मैं जैविक खेती को करने की सलाह दी गई तथा किसानों के लिए कम लागत में अच्छे बीज उपलब्ध करवाए गए जिसके कारण किसानों को काफी मुनाफा भी हुआ है |

इसके साथ साथ सरकार द्वारा वर्ष में कई बार कृषि मेलों का आयोजन किया जाता है | जिसमें की किसान कृषि उपकरणों की प्रदर्शनी लगाई जाती है जिस से किसान नई नई तकनीकों के बारे में ज्ञान प्राप्त करता है  और खेती करने के अत्याधुनिक तरीको से खेती करता है |

कृषि उपकरण क्या है ?

कृषि उपकरणों से अभिप्राय है की कोई भी खेती करने से पहले और खेती करते समय जिन उपकरणों की मदद से खेत जोतने में काम आता है और इस से मानवीय उर्जा की खपत में कमी आती है | सरल शब्दों में कृषि करने के लिए इस्तेमाल में लाये जाने वाले यंत्रो को कृषि उपकरण कहते है |

प्राचीन समय में खेती के लिए प्राचीन काल में पहले के लोगों द्वारा बनाये गये मिटटी या लकड़ी के बने यंत्रों के द्वारा खेत की जाती थी वे उस समय बैलों के माध्यम से खेती करते थे | आज खेती करने के लिए नये नये आधुनिक तकनीक से बने उपकरणों के द्वारा खेती की जाती है जिस से मानवीय श्रम को कम किया जा सका है |

फसलों की अच्छी पैदावार के लिए किसान को छिड़काव, टिल्टिंग, खुदाई आदि के लिए कृषि उपकरणों की जरूरत होती है , वैसे आज के समय में कृषि क्षेत्र में नई नई तकनीकों का विकास हो रहा है | आज हम खेतीबाड़ी संबंधी कुछ खास कृषि उपकरणों की जानकारी देने वाले हैं, जिनका उपयोग करके किसान समय और पैसे की बचत क साथ साथ फसल को बेहतर तरीके से उपजा सकेगा | खास बात है कि इनमें से कुछ कृषि उपकरणों पर सब्सिडी भी दी जाती है | Agriculture equipment manufacturing business

खेतीबाड़ी में उपयोग होने वाले कृषि उपकरण farming equipment business

  • रोटावेटर
  • डिस्क हैरो
  • कल्टीवेटर
  • रोटो बीज ड्रिल
  • प्लांटर
  • स्प्रेयर
  • स्ट्रा-रीपर

डुलक्स पेंट डीलरशिप कैसे ले

कृषि उपकरण बनाने का बिजनेस करने के लिए जरूरी चीजे

Requirements for The Business of Making Agricultural Equipment :- कोई भी बिजनेस हो फिर वह चाहे बड़े स्तर का हो या छोटे स्तर का उनको शुरू करने से पहले उनसे संबंधित बातों का ध्यान रखना बहुत जरूरी होता है | जैसे की आप जिस जगह पर बिजनेस करना चाहते है या फिर आप फैक्ट्री या प्लांट लगाते ह उसकी लोकेशन कैसी होनी चाहिए |

छोटे या बड़े स्तर के बिजनेस के लिए आपके पास क्या क्या होना चाहिए | इस सब में आप कितना इन्वेस्ट करेंगे और उसके बाद आप इस से आप कितना मुनाफा कमाएंगे | आपके लिए इन सब बातों को जानना बहुत जरूरी है क्योंकि ये सब जानकारी आपके लिए आपको बिजनेस शुरू करने में काफी फायदेमंद होगी |

  • जगह ( Shop )
  • GST Number
  • कच्चा माल ( Raw Material )
  • इन्वेस्टमेंट (Investment)
  • कर्मचारी ( Worker )
  • मार्केटिंग ( Marketing )
  • प्रॉफिट ( Profit )

कृषि उपकरण बनाने का बिजनेस करने के लिए जगह

Space for Business of Making Agricultural Equipment :- यहाँ पर आप एक बिजनेस के लिए जगह के बारे में बात कर रहे है तो आपको इस बात के बारे में सही समझ होनी बहुत आवश्यक है क्योंकि इसमें आपको बड़ी बड़ी मशीनों से काम करना पड़ता है | तो आपको इसके लिए  ट्रांसपोर्ट की व्यवस्था को भी ध्यान में रख कर जगह का चुनाव करना चाहिए |

अगर आप इसे शहर के बीच में रखते है तो आपको कई तरह की कठिनाइयों का सामना करना पड़ेगा | इस से बेहतर यह होगा की आप इसे शहर के बाहर रखे ताकि आप कोई समान वहाँ  पर लेके आये या लेकर जाना हो तो बिना किसी कठिनाई के अपना काम कर सके |

जगह ( Space ) :- 2000 से 3000 Square Feet |

हैफेड प्रोडक्ट डिस्ट्रीब्यूटरशिप कैसे ले

कृषि उपकरण बनाने का बिजनेस करने के लिए GST Number

Documents for Business of Making Agricultural Equipment :- कोई भी Business  शुरु करते है तो कुछ पर्सनल डॉक्यूमेंट की जरुरत पड़ती है और कुछ Business  से सबंधित लाइसेंस की जरुरत पड़ती है जैसे :-

Personal Document (PD) :- Personal Document के अन्दर बहुत से डॉक्यूमेंट होते है जैसे :

  • ID Proof :- Aadhaar Card , Pan Card , Voter Card
  • Address Proof :- Ration Card , Electricity Bill ,
  • Insurance 
  • Bank Account With Passbook
  • Photograph Email ID , Phone Number ,
  • Other Document  

बिजनेस Document (PD)

  • Business Registration
  • Business pan card
  • GST Number

कृषि उपकरण बनाने का बिजनेस करने के लिए कच्चा माल

Raw Material for Business of Making Agricultural Equipment :- कृषि उपकरणों को बनाने के लिए आपको कच्चे माल के रूप में समान अपने पास की मशीनरी से संबंधित मार्किट से मिल जाएगा | कई बार ऐसा होता है जब आपके आस पास में कोई बड़ी मार्किट ना हो तब आपके अपने मशीनरी के पार्ट्स के लिए दूर दुसरे शहर या कस्बों में भी जाना पड सकता है |

आपके पास अगर पर्याप्त मशीन और टूल बॉक्स है जिसमे सभी आकार के नट-बोल्ट हो और उन्हें उनकी जगह पर सही तरह से लगाने के लिए यंत्र भी होने चाहिए | कुछ शहरों में गाड़ियों , मशीनों , कृषि यंत्रों से संबंधित मार्किट होती है लेकिन कुछ जगहों पर इन सब के ना होने की वजह से लोगो को अपने उपकरणों को ठीक कराने के लिए दुसरे शहर में जाना पड़ता है | Agriculture equipment manufacturing business

मर्सिडीज-बेंज कार डीलरशिप कैसे ले

कृषि उपकरण बनाने का बिजनेस करने के लिए इन्वेस्टमेंट

Investment in Business of Making Agricultural Equipment :-  यह बिजनेस कृषि के लिए बनाये जाने वाले कृषि उपकरणों के लिए किये जाने वाले इन्वेस्टमेंट से संबंधित है | आपको इस बात का पूर्ण ज्ञान होना चाहिए की जो आप बिजनेस करना चाह रहे है उसकी लिए आपको इतनी जगह की आवश्यकता होगी की आप उन मशीनों को आसानी से बना सके और उन्हें एक स्थान पर स्टॉक कर सके |

इसके साथ साथ आपको मार्किट से लेके आने वाले समान का भी पता होना चाहिए क्योंकि कृषि के लिए बनाई जाने वाली मशीन पूरी तरह से धातु की बनी होती है | और उसके लिए आपको कितना लोहा चाहिए होगा जिस से आप को उपकरण बनाने के कोई कमी न आने पाए | आप इसको जितने बड़े स्तर से शुरू करेंगे आप की इन्वेस्टमेंट उतनी ज्यादा बढ़ जायेगी | Agriculture equipment manufacturing business

यह बात सभी जानते है की उच्च गुणवत्ता का समान बनाने और बेचने के लिए ज्यादा निवेश अर्थात ज्यादा धन खर्च करने की जरुरत होगी | इसके साथ साथ आपको उपकरणों को रखने के लिए जगह भी  बनानी होगी जिसके लिए ज्यादा स्पेस चाहिए |

इस सब के साथ ही इन्वेस्टमेंट इस बात पर भी निर्भर करती है की आप अपनी बिजनेस के लिए आपने कितने वर्कर रखें है और कितने टेकनिशीयन कर्मचारी रखें हैं | इन्वेस्टमेंट में उन सभी कारकों पर ध्यान दिया जाता है जिन के उपर हम अपने बिजनेस में व्यय करते है चाहे फिर वह आपके द्वारा बेचे जाने उपकरण के बारे में हो या कर्मचारियों के बारे में हो या फिर आपके प्लांट के बारे में हो |

लागत ( Investment ) :-  अनुमानित  50 से 60 लाख रूपये |

कृषि उपकरण बनाने का बिजनेस करने के लिए कर्मचारी

Workes for Business of Making Agricultural Equipment :- इस बिजनेस को करने के लिए आपको अपने प्लांट में इंजिनियर रखने पड़ेंगे | यह आप निर्धारित करेंगे की आप जो  बिजनेस कर रहे है वह किस स्तर का है अगर आप इसे बड़ा और राष्ट्रिय या अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर करना चाहते है तो आपको इसमें निवेश भी बहुत ज्यादा करना पड़ेगा और कर्मचारियों की नियुक्ति भी एक बड़े लेवल पर करनी होगी |

साथ ही साथ आपको इसमें इंजिनियर भी ज्यादा रखने होंगे | आपको इस बात का धान रखना होगा की आपके द्वारा रखे गये कर्मचारी और इंजिनियर को काम के बारे में अच्छे से पता हैं या उन्हें इस से संबंधित ज्ञान है | इसके लिए आप उनकी शैक्षणिक योग्यता संबंधी Documents जरुर देखे |

Prism सीमेंट एजेंसी कैसे ले

कृषि उपकरण बनाने का बिजनेस करने के लिए मार्केटिंग

Marketing in Business of Making Agricultural Equipment :- आप विज्ञापन देकर अपने कृषि उपकरण बिजनेस की मार्केटिंग कर सकते है | आप इसके लिए पम्पलेट छपवा सकते है | आप के बिजनेस की मार्किट का एरिया सबसे ज्यादा ग्रामीण इलाको से संबंधित है , इस वजह से आपको शहरों में विज्ञापन का वो स्थान चुनना होगा जहाँ कृषि उपकरणों की मार्किट हो बाकी आप इसके लिए अगर गाँव का स्थान चुनते है ,

तो वो आपके लिए ज्यादा बेहतर होगा इसका सीधा अर्थ यह है की आप अपनी मशीनों को प्रत्यक्ष रूप में ग्रामीणों के बीच लेके जाते है तो वह आपके लिए फायदेमंद साबित हो सकता है | आप इसके लिए गाँव में नुक्कड़ नाटक करवा सकते है क्योंकि ग्रामीण परिवेश के लोग गाँव में होने वाले नुक्कड़ नाटकों से बहुत ज्यादा प्रभावित होते है |

कृषि उपकरण बनाने का बिजनेस करने में प्रॉफिट

Profit in Business of Making Agricultural Equipment :- हम सब यह बात अच्छे से जानते है कि आज के समय में और आने वाले समय में जिस प्रकार मानव ने तकनीकी क्षेत्र में तरक्की की है उसका असर सभी कार्य क्षेत्रों में हुआ है | पहले मानवीय श्रम के साथ जिस काम को करने में हफ़्तों  लग जाते थे अब उसी काम को करने में कुछ घंटे लगते है या उस से भी कम | इस बात से ये सिद्ध होता है की आधुनिकता ने हमारे काम करने के तरीको को बदला है और समय की बचत की है | Agriculture equipment manufacturing business

किसान जो की पुराने यंत्रों से खेती बाड़ी के कार्य पूर्ण करते थे | अब नई मशीनों के आ जाने से उन के साथ काम करते है | कृषि कार्यों में बढती आधुनिकता के कारण आप इस बारे में यह कह सकते है की आपको इसमें नुकसान नहीं उठाना पड़ेगा | इसमें आपको सिर्फ एक बात पर ध्यान रखना होगा की आपके प्लांट में बने उपकरणों की गुणवत्ता में कमी न आने पाए क्योंकि कोई भी कंपनी या बिजनेस हो आज हर कोई उसमें गुणवत्ता की परख पहले करता है |

यदि आपको यह Business of Making Agricultural Equipment Hindi की जानकारी पसंद आई या कुछ सीखने को मिला , तब कृपया इस पोस्ट को Social Networks जैसे कि Facebook, Twitter और दुसरे Social Media Sites पर Share कीजिये |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button