जिला कलेक्टर कौन होता है | जिला कलेक्टर बनने के लिए एग्जाम की तैयारी कैसे करें District Collector banne ke liye Exam ki taiyari kaise kare |

जिला कलेक्टर कौन होता है | जिला कलेक्टर बनने के लिए एग्जाम की तैयारी कैसे करें District Collector banne ke liye Exam ki taiyari kaise kare | District Collector kaise bane

District Collector kaise bane  :- भारत में किसी भी उच्च श्रेणी के पद को पाने के लिए UPSC पास करना अति आवश्यक होता है | सबसे पहले आपको यूपीएससी (UPSC) की फुल फॉर्म बताते है इसे English में  Union Public Service Commission और हिंदी में इसे संघ लोक सेवा आयोग कहते हैं | दोस्तों हमारे देश में सरकारी विभागों में अधिकारियों की नियुक्ति किस प्रकार की जाती है उसकी प्रक्रिया क्या होती है | इसके के बारे में तो आप जानते ही होंगे अगर नहीं जानते है तो आज की हमारी यह पोस्ट इसी से सम्बंधित है | यहाँ हम आपको बताने वाले हैं , कि सरकारी विभाग में अधिकारियों की नियुक्ति कैसे की जाती है |

District Collector banne ke liye Exam ki taiyari kaise kare

भारत सरकार की ग्रेड अनुसार नौकरियां  

आपके जानकारी के लिए बता दें कि यूपीएससी परीक्षा (UPSC Exam) सरकारी विभागों में अधिकारियों की नियुक्ति के लिए आयोजित की जाती है | यह परीक्षा हमारे देश में सबसे सम्मानित और बहुत कठिन परीक्षा होती है | जिसे उत्तीर्ण करने के लिए आपको कड़ी मेहनत करने की आवश्यकता होती है | इसके साथ साथ इस परीक्षा को देने के लिए ग्रेजुएशन पूरी करना बेहद जरूरी है | आज की हमारी इस पोस्ट के माध्यम से आपको District Collector banne ke liye Exam ki taiyari kaise kare , इस से जुड़ी जानकारी के बारे में बताएंगे |

जिला कलेक्टर बनने के लिये योग्यता District Collector kaise bane

Eligibility to become District Collector :- अगर आप जिला कलेक्टर बनना चाहते है तो इसके लिए आपको कुछ जरुरी योग्यता को पूरा करना होता है जिसके बारे में जानकारी निम्न है :-

  • उम्मीदवार का किसी भी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से Graduation पास होना आवश्यक हैं।
  • भारतीय होना‌ आवश्यक है | District Collector kaise bane
  • उम्मीदवार किसी गंभीर बिमारी से ग्रस्त नही होना चाहिए |
  • इसके लिए उम्मीदवार की न्युनतम आयु 21 वर्ष होनी आवश्यक हैं |
  • इन सभी योग्यता को पूरा करने के बाद आप इस पोस्ट के लिए आवेदन कर सकते है |

जिला कलेक्टर की परीक्षा देने के लिये उम्र सीमा

Age Limit for District Collector Exam :- सभी‌ सरकारी नौकरी के लिये एक निर्धारित उम्र सीमा तय की हुयी होती है , जिसमें की पदानुसार आयु सीमा कम और अधिक होती है | जिला कलेक्टर बनने के लिये निम्न उम्र सीमा निर्धारित की गयी है जो की विभिन्न वर्गो के लिए अलग अलग रखी गयी है :-

  • General – 21 से 32 वर्ष तक 6 बार परीक्षा दे सकते है |
  • OBC – 21 से 35 वर्ष की आयु तक 9 बार परीक्षा दे सकते है |
  • ST/SC – 21 से 37 वर्ष की आयु तक जितनी बार चाहें , परीक्षा दे सकते है |
  • Physically Disable – 21 से 42 वर्ष की आयु तक 9 बार परीक्षा दे सकते है |
  • ST/SC Physically Disable – 21 वर्ष से असीमित समय तक

भारत सरकार की ग्रेड अनुसार नौकरियां  

जिला कलेक्टर बनने के लिये परीक्षा District Collector kaise bane

Exam to become District Collector :- जिला कलेक्टर बनने के लिये आवेदन Union Public Service Commission (UPSC) द्वारा निकाले जाते हैं व इसकी परीक्षा भी इसी के द्वारा करवाई जाती हैं | इसके‌ लिए UPSC द्वारा ( All India Civil Service Exam ) परीक्षा करवाई जाती हैं जिसे CSE भी कहते हैं इसकी परीक्षा एक साल मे‌ एक बार करवाई जाती हैं | District Collector kaise bane

इस परीक्षा मे‌ टॉपर रहे उम्मीदवारो को योग्यता अनुसार अलग अलग पदों  के लिये चुना जाता हैं जिसमे कलेक्टर, कमिश्नर, सेक्रेटरी आदि कई पद होते हैं | अगर आपको ज़िला कलेक्टर बनना हैं तो आपको ये बात जरुर याद रखनी‌ चाहिए की आपको इसके लिये 3 चरणों में परीक्षा पास करनी होती हैं | उसके बाद आपकी जिला कलेक्टर की ट्रेनिंग शुरू करवाई जाती है |जिला कलेक्टर बनने‌ के लिए 3 चरण निम्न है :-

1. प्रारम्भिक परीक्षा (Preliminary Exam) :- यह प्रथम‌ परीक्षा होती हैं जो की काबिल उम्मीदवारों को और अन्य उम्मीदवारो को छाटंने का काम करता हैं इस परीक्षा मे सफल होने वाले लोगो को ही दुसरे चरण की परीक्षा के लिये चुना जाता है। ( यह परीक्षा जुलाई से अगस्त के मध्य होती हैं ) ये प्रथम परीक्षा होती हैं व आवेदन करने के बाद आपको ये परीक्षा देनी होती हैं | इसमें 2 प्रकार के पेपर होते हैं, पहला जनरल एबिलिटी टेस्ट ( GAT ) और दूसरा सिविल सर्विसेज एप्टीट्यूड टेस्ट ( CSAT ) का होता है | दोनों ही ऑब्जेक्टिव टाइप पेपर होते है |

2. मुख्य परीक्षा (Main Exam) :- यह परीक्षा प्रारम्भिक परीक्षा मे पास हुए उम्मीदवारों के लिए करवायी जाती हैं जिसमे वो ही उम्मीदवार भाग ले सकते हैं जो प्रारम्भिक परीक्षा मे सफल हुए होते हैं इस वजह से ये परीक्षा थोडी कठिन होती हैं | इसमे सभी योग्य उम्मीदवार ही भाग ले पाते हैं ( यह परीक्षा दिसम्बर से जनवरी के मध्य होती हैं ) | इसमें 2 प्रकार के पेपर होते हैं, पहला क्वालिफाइंग पेपर और दूसरा मेरिट पेपर इन में पास होना अनिवार्य है |

3. साक्षात्कार (Interview) :- ये जिला कलेक्टर बनने‌ का‌ अन्तिम चरण होता हैं | जब उम्मीदवार प्रारम्भिक परीक्षा व मुख्य परीक्षा पास कर लेते है उसके बाद उन्हें Interview के‌ लिए बुलाया जाता हैं | Interview के बारे में आपको पता तो होगा ही, इसमे कुछ अधिकारी हमारे सामने‌ बैठ कर कुछ विषयों पर सवाल जवाब करते है और आपके ज्ञान व जवाब देने के तरीके को आधार मानकर आपको इसमे नम्बर दिये जाते हैं | अगर आप इसे भी क्लियर कर लेते हैं | तो आपको Collector Office जिला कलेक्टर की ट्रेनिंग के लिये चुना जाता हैं |

बैंक मैनेजर कैसे बनें योग्यता ,कोर्स  

जैसे की हमने अभी तक आपको बताया है और आपने भी इस से सम्बंधित बातचीत  किसी से की होगी तो आपको पता चल गया होगा की इसकी परीक्षा के लिए कितनी ज्यादा मेहनत करनी पडती है | कलेक्टर की परीक्षा पास करने के लिए कड़ी मेहनत और एकाग्रता की आवश्यकता होती है | इन सब में सबसे मुख्य एक बात यह भी है की आपको इस से जुड़े सभी विषयों का पूर्ण ज्ञान होना आवश्यक है की किस विषय से कितने नंबर का परीक्षा में आता है या कौन कौन से विषय से सम्बंधित प्रश्न आते हैं | परीक्षा से सम्बंधित ध्यान देने लायक कुछ पॉइंट्स निम्न है :-

  • जनरल नॉलेज (Gk) के ज्ञान कोष में वृद्धि करें |
  • कर्रेंट अफेयर्स पे अधिक ध्यान दे जिसके लिए आप न्यूज़पेपर पढ़ते रहे और इन्टरनेट का भी इस्मातेल करें |रोचक न्यूज को पॉइंट बनाये |
  • किसी दूसरे से अलग अलग प्रश्नपत्रिका बनवाये फिर उसके प्रश्नो को सॉल्व करे |
  • सेल्फ स्टडी पर ज्यादा फोकस करें, प्रश्नावली प्रतियोगिता में भाग लेते रहे, किताबे पढ़ते समय पॉइंट को मार्क करें |
  • इस परीक्षा से सम्बंधित आजतक की जितनी भी हो सकें प्रश्नपत्रिकाऐ जमा करे फिर उनके प्रश्नो का उत्तर निकाले, यदि किसी सवाल का जवाब ना मिले तो इंटरनेट की मदद ले |
  • आप को खुद को इतना काबिल बनाना होगा की जिस से आप किसी भी सवाल को बिना अधिक समय गंवाए हल कर सकें |
  • Self Confidence बढ़ाये , किसी के सामने या स्टेज पर बोलने की डेरिंग बढ़ाये, बेहिचक बोलिये,
  • इसमें आपको इस बात पर ख़ास ध्यान देना होगा की जिस विषय पर बोल रहे है उसके मुख्य पॉइंट्स को पकड़कर बोलिये |
  • Interview के समय आप को अपने शब्दों पर ध्यान देना होगा ऐसे समय के लिए कहा जाता है की ” क्या बोलना है से ज्यादा जरूरी होता है, क्या नहीं बोलना ” है | District Collector kaise bane 

यदि आपको यह District Collector Kon hota hai | District Collector banne ke liye Exam ki taiyari kaise kare |  की जानकारी पसंद आई या कुछ सीखने को मिला तब कृपया इस पोस्ट को Social Networks जैसे कि Facebook, Twitter और दुसरे Social media sites share कीजिये |

You might also like