Banking

[2024] मोबाइल से आईटीआर कैसे भरे Mobile Se ITR Kaise Bhare Online 2024 ITR filing

[2024] मोबाइल से आईटीआर कैसे भरे Mobile Se ITR Kaise Bhare Online 2024 | ITR filing

itr kaise bhare,itr online kaise bhare,itr kaise bhare in hindi,form 16 kaise bhare,itr filing online 2024-24,income tax return kaise bhare,itr 1 filing online 2024,itr 1 filing online 2024,itr 1 kaise bhare,mobile se online itr kaise bhare,itr filing online 2024,mobile se itr kaise bhare,how to fill itr online,itr 4 filling online 2024 kaise bhare,itr online kaise file kare,how to file itr online,how to fill income tax return form online

ITR filing Mobile Se Online ITR Kaise Bhare 2024 :- Tax  के बारे में तो सभी ने सुना होगा क्योकि हम एक सुई से बड़े ट्रक तक खरीदते है तो उसके ऊपर टैक्स जरुर लगता है और बहुत से प्रकार के टैक्स लगते थे पहले जैसे Income Tax , Property Tax, Wealth Tax, Sales Tax, Purchase Tax, Corporate Tax, Service Tax, और हाल में सबसे ज्यादा चर्चाओं में मौजूद गुड्स एंड सर्विसेज टैक्स आदि लेकिन आज के टाइम GST ही लगता है |

और जो इनकम के ऊपर टैक्स होता है उसको Income Tax Return फाइल से भरना पड़ता है आयकर अधिनियम, 1961 करदाता के लिए विभिन्न परिदृश्यों के तहत आयकर रिटर्न दाखिल करना अनिवार्य बनाता है इसके लिए जितनी भी इनकम होती है उसी हिसाब से Income Tax Return करना होता है और Income Tax Return फाइल करने के बहुत सरे फायदे मिलते है इसलिए यदि आप Income Tax Return फाइल करना चाहते है तो हमने यंहा Income Tax Return के बारे में विस्तार से बतायेंगे |

टाटा स्टॉक लिस्ट 2024

ITR Full Form in Income Tax

आईटीआर (ITR) की फुल फॉर्म Income Tax Return है और हिंदी में इसे आय कर रिटर्न बोला जाता है |

आय कर रिटर्न क्या होता है

Income Tax Return :- आयकर रिटर्न हमारी सालाना आय पर जो टैक्स हमसे केंद्रीय सरकार द्वारा लिया जाता है उस टैक्स को इनकम टैक्स के नाम से जाना जाता है और जिस फॉर्म से ये इनकम टैक्स भरा जाता है उसे ITR या आयकर रिटर्न कहा जाता है आयकर अधिनियम, 1961 करदाता के लिए विभिन्न परिदृश्यों के तहत आयकर रिटर्न दाखिल करना अनिवार्य बनाता है कोई भी व्यक्ति जिसकी आय ₹2.5 लाख, ₹3 लाख या ₹5 लाख से अधिक है उसे आयकर रिटर्न फाइल करना चाहिए।

आयकर रिटर्न फाइल के अन्दर सारी जानकारी देनी पड़ती है कमाई और खर्चो के बारे में जानकारी देनी पड़ती है आयकर विभाग आयकर रिटर्न की इलेक्ट्रॉनिक फाइलिंग(e-filing) की सुविधा प्रदान करता है income tax return के बहुत सारे फायदे मिलते है यदि कोई भी income tax return फाइल करते है उसके उपर सारे बैंक भरोसा करते है जिस लोन लेने में आसानी रहती है ऐसे बहुत सरे फायदे मिलते है  भी कंपनी या फिर व्यक्ति आईटीआर भरता है उस वयक्ति को सरकार के द्वारा एक निश्चित समय या तारीख दी जाती है और फिर उस कंपनी या फिर व्यक्ति को उस तारीख या समय तक आईटीआर भरनी होती है। इनकम टैक्स कई रूप में हो सकती है जैसे की – इनकम टैक्स रिटर्न ब्याज, पूँजीगत बेनिफिट, बिजनेस में बेनिफिट, इनकम सैलरी आदि |

ये 10 रेलवे स्टॉक आपको बना देंगे करोड़पति

ITR Kisko Bharna Chahiye Online

Income Tax Return Kaise Bhare :- 2.5 लाख रुपये से अधिक कमाई टैक्स के दायरे में आती है ITR फाइल अंडर आती है निचे इनकम टैक्स स्लेब दी गयी है इसके अन्दर कमाई के अनुसार टैक्स बताया गया है लेकिन यदि आपकी इनकम 2.5 लाख रुपये से कम है तो ITR फाइल कर सकते है उसके फायदे मिलेंगे | ITR Kaise Bhare Online

इनकम टैक्स स्लैब वित्त वर्ष 20-21 ( असेसमेंट वर्ष 21-22) के लिए मौजूदा इनकम टैक्स दरें वित्त वर्ष 20-21
(असेसमेंट वर्ष 21-22) के लिए नई इनकम टैक्स दरें 
भारतीय निवासी & हिंदू अविभाजित परिवार (HUF) (60 वर्ष से कम आयु के व्यक्ति & एनआरआई) भारतीय निवासी & हिंदू अविभाजित परिवार (HUF) (60 से 80 वर्ष की आयु वाले व्यक्ति) भारतीय निवासी & हिंदू अविभाजित परिवार (HUF) (80 वर्ष से अधिक उम्र वाले व्यक्ति) सभी व्यक्तियों और हिंदू अविभाजित परिवार (HUF) के लिए लागू 
₹0.0 – ₹2.5 लाख शून्य शून्य शून्य शून्य
₹2.5 – ₹3.00 लाख 5% (सेक्शन 87a के तहत टैक्स छूट मिलती है) शून्य शून्य 5% (सेक्शन 87a के तहत टैक्स छूट मिलती है)
₹3.00- ₹5.00 लाख 5% (सेक्शन 87a के तहत टैक्स छूट मिलती है) शून्य
₹5.00 – ₹7.5 लाख 20% 20% 20% 10%
₹7.5 – ₹10.00 लाख 20% 20% 20% 15%
₹10.00 – ₹12.50 लाख 30% 30% 30%  20%
₹12.5 – ₹15.00 लाख 30% 30% 30% 25%
₹15 लाख से अधिक 30% 30% 30% 30%

ITR फाइल करने के लाभ

ITR File Ke Benefits In Hindi :- Income Tax Return के बहुत सारे फायदे मिलते है |

1. यदि आप ITR File करते हैं बैंक भरोसा बढ़ जाता है जिस से बैंक में ITR प्रूफ के तौर पर देने पर आसानी से लोन दे देता है और आपका लोन ज्यादा मिल जाता है अगर आप टाइम टू टाइम ITR फाइल करते हो,तो वहा पर लोन मिलने के चांस बढ़ जाता है|
2. वीजा मिलने में आसानी है :- आप टाइम टू टाइम ITR फाइल करते हो,तो किसी भी देश का वीजा मिलने में आसानी हो जाती है | Income Tax Return Kaise Bhare
3 . इन्सुरांस कवर मिलती है :- यदि हर साल टाइम टू टाइम ITR फाइल करते है तो Insurance कंपनी आपका ITR जरूर चेक करती है इस से आप 1 करोड़ तक इन्सुरांस ले सकते है |
4 . सरकारी कॉन्ट्रैक्ट मिलने में आसानी :- यदि आप टाइम टू टाइम ITR फाइल करते है तो सरकारी कॉन्ट्रैक्ट मिलने में आसानी हो जाती है |
5 . बिज़नेस बढ़ाने में आसानी :- 5-6 सालों से लगातार आईटीआर भर रहे है तो आपके बिज़नेस के अकाउंट में वो फाइल उसमे लगेगी तो आपकी कंपनी पर भरोसा बढ़ जाता है जिस से आपके प्रोडक्ट ज्यादा सेल होंगे |

https://www.youtube.com/watch?v=0ZefD212yYo&pp=ygUxIE1vYmlsZSBTZSBJVFIgS2Fpc2UgQmhhcmUgT25saW5lIDIwMjQgSVRSIEZpbGluZw%3D%3D

ITR फ़ार्म के प्रकार

Types of ITR Forms :- Income Tax Department की वेबसाइट पर अलग अलग फॉर्म मिलते है सभी फॉर्म अलग अलग काम के लिए लेकिन सभी Income Tax return के लिए होते है असेसमेंट ईयर 2022-23 में, ITR-1 से ITR-7 तक सात फॉर्म है कुछ फॉर्म बड़े होते है है जिनके लिए प्रॉफिट एंड लॉस स्टेटमेंट जैसी अतिरिक्त जानकारी की जरूरत हो सकती है |

  • ITR-1: इस फ़ार्म को ‘SAHAJ’ भी कहा जाता है। यह फॉर्म एक ऐसे व्यक्ति द्वारा फाइल किया जाता है जो वेतन, पेंशन, वन हाउस प्रॉपर्टी, ब्याज या अन्य तरीकों से (लॉटरी और हॉर्स रेस से होने वाली कमाई को छोड़कर) इनकम प्राप्त करता है और जिसकी कुल इनकम 50 लाख रुपये तक है।
  • ITR-2: उन व्यक्तियों या HUF (हिंदू अविभाजित परिवारों) के लिए है जिनके पास इनकम तो है, लेकिन किसी बिज़नेस या पेशे से प्राप्त नहीं होती है।
  • ITR-3: उन अलग-अलग व्यक्तियों या HUF (हिंदू अविभाजित परिवारों) के लिए है जिनको आय किसी व्यवसाय या पेशे से प्राप्त होती है।
  • ITR-4: यह फार्म उन लोगों के लिए है जिनके पास व्यवसाय या पेशे से अनुमानित (तय नहीं) आय प्राप्त होती है।
  • ITR-5: यह फार्म व्यक्तियों, HUF (हिंदू अविभाजित परिवारों), कंपनी और फॉर्म ITR-7 फाइल करने वाले व्यक्तियों के अलावा अन्य सभी के लिए है।
  • ITR-6: यह फार्म उन सभी कंपनियों के लिए है जो इनकम टैक्स एक्ट की धारा 11 के तहत छूट का दावा नहीं कर रहे हैं।
  • ITR-7: यह फार्म उन business सहित उन सभी लोगों के लिए है जिन्हें धारा 139(4A), धारा 139(4B), धारा 139(4C), धारा 139(4D), धारा 139 (4E) या 139 (4F) के तहत टैक्स रिटर्न फाइल करना ज़रूरी है।

ITR फॉर्म कैसे डाउनलोड करें? How To Fill ITR Online

Income Tax Department की ऑफिशियल वेबसाइट पर ITR फॉर्म मिल सकते हैं। फॉर्म डाउनलोड करने का तरीका नीचे दिया गया है |

  • सबसे पहले Income Tax Department. की वेबसाइट पर जाएं.
  • होम पेज पर, ‘Form/Downloads’ ऑप्शन पर क्लिक करें.
  • फिर ड्रॉप-डाउन मेन्यू से ‘Income Tax Returns’ option चुनें. ITR Kaise Bhare Online
  • फिर एक बार जब आप ‘Income Tax Returns’ वेब पेज पर चले जाते हैं, तो वह फ़ॉर्म डाउनलोड करें जो आपकी आय और असेसमेंट ईयर के मुताबिक हो।

आईटीआर फाइलिंग के लिए आवश्यक दस्तावेज

यदि आप एक कर्मचारी हैं:

  • पैन कार्ड
  • आपके नियोक्ता द्वारा प्रदान किया गया फॉर्म 16
  • वेतन पर्ची (मासिक)

यदि आप एक Businessके मालिक हैं: ITR Kaise Bhare Online

  • ट्रेडिंग रिपोर्ट
  • Business खाते का विवरण
  • लाभ और हानि विवरण यदि कोई हो

इसके अलावा, आप सबमिट कर सकते हैं:

  • निवेश प्रमाण
  • संपत्ति खरीद / बिक्री दस्तावेज
  • बैंकों द्वारा प्रदान किया गया टीडीएस प्रमाणपत्र
  • ब्याज आय विवरण
  • दान म्युचुअल फंड और निवेश के अन्य रूपों के संबंध में प्राप्तियां

आईटीआर फाइलिंग कैसे अप्लाई करे Mobile Se Online ITR Kaise Bhare

Step 1: ITR Filing Online Kaise Kare :- Step 1: सबसे पहले Income Tax Department की ई-फाइलिंग वेबसाइट पर जाएं |
Step 2 : यदि आपने पहले से रजिस्ट्रेशन किया हुआ है तो, लॉग-इन करें। लॉग-इन करने के लिए अपनी User ID और अपना पासवर्ड डाले |
Step 3 : लॉग-इन करने के बाद, स्क्रीन पर ‘e-file’ टैब के तहत ‘File Income Tax Return’ का ऑप्शन नज़र आएगा। इसी क्रम में आगे बढ़ते रहें
Step 4: उस Assessment Year को चुनें जिसके लिए आप ITR फाइल करना चाहते हैं, और “Continue” पर क्लिक करें।
Step 5 : फिर “Online” मोड को सलेक्ट करें।
Step  6 : फिर ‘individual’ का आप्शन चुनें।
Step  7: फिर “Filling Type” में जाकर 139(1)- Original Return सलेक्ट करें और फिर अपनी कैटेगरी के आधार पर वह “ITR FORM” सलेक्ट करें जिसे आप फाइल करना चाहते हैं। आपके सिस्टम पर फॉर्म डाउनलोड हो जाएगा।
Step  8 : इसके बाद अपना रिटर्न फाइल करने का reason डाले |
Step  9 : अपने Bank Account संबंधी जानकारी दर्ज करें। अगर आपने पहले ही अपने बैंक अकाउंट की जानकारी प्रदान कर दी है, तो इसे pre-validate करें।
Step 10 : उसके बाद दुसरे पेज पर भेजा जायेगा फिर अपने रिटर्न की समरी को कंफर्म करें और इसे वैलिडेट करें।
Step 11: आप आधार OTP या EVC (इलेक्ट्रॉनिक वेरिफिकेशन कोड) का उपयोग करके इलेक्टॉनिक रूप से या फिर ई-फाइलिंग की तारीख से 120 दिनों के भीतर ITR V का साइन किया हुआ प्रिंटआउट, सीपीसी बैंगलोर के लिए भेजकर अपना टैक्स रिटर्न verification कर सकते हैंITR Kaise Bhare Online
Step 12 : एक बार आपका return फाइल हो जाने के बाद ITR V की रसीद आपके रजिस्टर्ड ईमेल पर भेज दी जाएगी
Step 13 : ITR के वेरिफिकेशन के बाद, Department उसकी प्रक्रिया शुरू कर देगा और आपकी registered की हुई ईमेल आईडी और मोबाइल नंबर पर आपको इसकी सूचना मिल जाएगी।यह जरूरी नहीं है

10 Stocks for SIP Investment in hindi 2023

इनकम टैक्स कैसे बचाएं?

How to save income tax :- यदि कोई भी Person इनकम टैक्स बचाना चाहता है तो बहुत सारे तरीके होते है जिस से आसानी से टैक्स बचाया जा सकता है  इसके लिए ईएलएसएस, एलआईसी, म्यूचुअल फंड या फिर पोस्ट ऑफिस की स्कीम में पैसा लगा के टैक्स बेचा सकते है |

  • 80C के तहत 1.5 लाख रुपये तक टैक्स की कटौती नही है इसमें केवल ईएलएसएस, एलआईसी, म्यूचुअल फंड में निवेश, बच्चों के लिए ट्यूशन फीस में कटौती, होम लोन की मूल राशि में कटौती आदि ।
  • राष्ट्रीय पेंशन योजनाओं में निवेश करते है तो 80 सीसीसी (1बी) में 1.5 लाख रुपये से ऊपर 50,000 रुपये की अतिरिक्त कटौती तो इस स्कीम में पैसे निवेश करके टैक्स बेचा सकते है |
  • Medical Insurance Premium टैक्स कटौती की बात करे तो 80D स्वयं, पति/पत्नी, बच्चों (25000 / 50,000 रुपये) और आश्रित माता-पिता (25000 / 50,000 रुपये) है ऐसे Insurance करवा कर टैक्स बेचा सकते है
  • ट्रस्टों को दान करे डोनेशन करे जिस से 80G के तहत छुट मिलती है |
  • आप ऐसी स्कीम में पैसा लगाये जंहा टैक्स में छुट मिलती है |

Income Tax Return File (ITR) FAQ

Q . ITR full form in Hindi क्या होती है ?
Ans . आईटीआर (ITR) की फुल फॉर्म Income Tax Return होती है।

Q . आईटीआर (ITR) क्या होता है ?
Ans . हमारी सालाना आय पर जो टैक्स हमसे केंद्रीय सरकार द्वारा लिया जाता है उस टैक्स को इनकम टैक्स के नाम से जाना जाता है और उस इनकम टैक्स को भरने के फॉर्म को ITR कहते है

Q . क्या हर किसी व्यक्ति को आईटीआर (ITR) भरनी होती है ?
Ans . नही सभी को ITR फाइल नही करनी पड़ती है इनकम के हिसाब से ITR फाइल करनी पड़ती है 2.5 लाख से उपर उपर होती है |

Q . क्या ITR भरने के कुछ फायदे भी होते है ?

  •  जी हाँ ITR भरने के बहुत से फायदे होते है जैसे की-
  • ITR भरने से लोन लेने में आसानी हो जाती है
  • बिज़नेस बढ़ाना आसान हो जाता है
  • आसानी से प्रॉपर्टी खरीद सकते है
  • आईटीआर की मदद से वीसा मिलने में भी आसानी होती है।
  • ITR एड्रेस प्रूफ के भी काम आता है। ITR Kaise Bhare Online

Q . ITR फाइल करने की लास्ट डेट क्या होती है ?
Ans . किसी भी साल की ITR फाइल की आखरी तारीख 31 मार्च होती है।

Q . एक साल में कितनी बार ITR फाइल करनी होती है ?
Ans . किसी भी व्यक्ति को एक साल में केवल एक ही बार ITR फाइल करनी होती है।

Q . ITR भरने के लिए न्यूनतम इनकम कितनी होना चाहिए?
Ans . आयकर अधिनियम के अनुसार, यदि आपकी कुल आय दिए गए वित्तीय वर्ष में ₹2.5 लाख से अधिक है, तो आपको भारत में आयकर रिटर्न भरना चाहिए।

Q . मेरे पास पैन कार्ड नहीं है। क्या मैं अपना आयकर रिटर्न फाइल कर सकता हूँ?
Ans . हां, अगर आपके पास पैन कार्ड नहीं है तो आप आधार का उपयोग करके अपना आयकर रिटर्न फाइल कर सकता हैं।

2025 के लिए 7 टॉप मल्टीबैगर स्टॉक्स 

यदि आपको यह Mobile Se ITR Kaise Bhare Online 2024 Hindi in India की जानकारी पसंद आई या कुछ सीखने को मिला तब कृपया इस पोस्ट को Social Networks जैसे कि Facebook, Twitter और दुसरे Social media sites share कीजिये |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button

Discover more from Invest Kare

Subscribe now to keep reading and get access to the full archive.

Continue reading