एमएफए कोर्स क्या है ? इसके सब्जेक्ट , योग्यता और फीस सम्बन्धी जानकारी

एमएफए कोर्स क्या है ? इसके सब्जेक्ट , योग्यता और फीस सम्बन्धी जानकारी What is MFA ? Information related to its subjects, qualifications and fees |MFA Course Details Hindi

एक ऐसा समय था जब फाइन आर्ट्स को सीखने के लिए पहले से काम कर रहे किसी अनुभवी व्यक्ति से सीखना पड़ता था। इसके लिए कोई विशेष शिक्षण संस्थान उपलब्ध नहीं थी। लेकिन आज के आधुनिक समय में फाइन आर्ट्स के किसी भी हुनर को सीखने के लिए कॉलेजों के द्वारा विभिन्न प्रकार की डिग्रियां कराई जाती है।

MFA Course Details Hindi

जिनमें स्नातक से लेकर स्नातकोत्तर तक की डिग्रियां होती है। इनमें से 1 डिग्री का नाम एमएफए कोर्स है। एमएफए कोर्स एक मास्टर डिग्री कोर्स है। इस कोर्स को फाइन आर्ट्स में स्नातक डिग्री करने के पश्चात किया जा सकता है। इस कोर्स की अवधि 2 वर्ष की होती है। इस कोर्स में फाइन आर्ट्स से संबंधित शिक्षा प्रदान की जाती है।

होटल मैनेजमेंट में पीजीडी कोर्स क्या है ? इसके सब्जेक्ट , योग्यता और फीस सम्बन्धी जानकारी

एमएफए का फुल फॉर्म क्या है MFA Course Details Hindi

एमएफए का फुल फॉर्म Master of Fine Arts होता है। इस फुल फॉर्म के शब्दों को हिंदी में मास्टर ऑफ फाइन आर्ट्स उच्चारित किया जाता है। Master of Fine Arts में प्रयोग किए गए शब्द अंग्रेजी भाषा के हैं। MFA Full Form in Hindi: हिंदी भाषा में एमएफए का फुल फॉर्म फाइन आर्ट्स में Postgraduateहोता है। इसका मतलब फाइन आर्ट्स यानी फाइन आर्ट्स में मास्टर डिग्री होता है। जिसे फाइन आर्ट्स की पोस्ट ग्रेजुएशन भी कहते हैं। एमएफए फुल फॉर्म से संबंधित जानकारी प्राप्त करने के पश्चात अब आगे एमएफए क्या होता है इससे संबंधित जानकारी दी गई है।

एमएफए क्या है ?

एमएफए एक मास्टर डिग्री कोर्स है। इसमें फाइन आर्ट्स से संबंधित उच्च स्तरीय शिक्षा प्राप्त की जा सकती है। इस कोर्स को फाइन आर्ट्स में बैचलर डिग्री हासिल करने के बाद किया जा सकता है। इस कोर्स की अवधि 2 वर्ष की होती है। एमएफए कोर्स के द्वारा  कलाकारी से सबंधित किसी भी क्षेत्र में कैरियर बनाया जा सकता है। इस कोर्स को अनेकों प्रकार के हुनरो को सीखने के लिए किया जा सकता है। जो लोग गायन,  डांस, अभिनय जैसे क्षेत्रों में अपना भविष्य बनाना चाहते हैं। उनके लिए यह कोर्स एक बेहतरीन विकल्प माना जाता है।

पीजीडीएम कोर्स क्या है ? इसके सब्जेक्ट , योग्यता और फीस सम्बन्धी जानकारी

आजकल हर क्षेत्र में प्रोफेशनल व्यक्ति की आवश्यकता होती है। अपने हुनर को प्रोफेशनल रूप देने के लिए हुनर सीखने के साथ-साथ डिग्री होना भी रोजगार प्राप्त करने के लिए आवश्यक होता है। हुनर के साथ-साथ इस डिग्री को हासिल करने से रोजगार प्राप्त करने में आसानी होने के साथ एक अच्छी सैलरी भी प्राप्त होती है। इस डिग्री के पश्चात विदेशों में जाकर विभिन्न प्रकार की नौकरियों के पद प्राप्त किए जा सकते हैं। साथ ही अपना स्वयं का भी व्यवसाय शुरू किया जा सकता है। कुल मिलाकर कहे तो अपने भविष्य को सुरक्षित तथा सुनिश्चित करने के लिए इस कोर्स की डिग्री प्राप्त करना एक अच्छा कदम माना जाता है।

एमएफए कोर्स के लिए पात्रता

एमएससी कोर्स को करने के लिए विभिन्न प्रकार की योग्यताओं की आवश्यकता होती है। उन योग्यताओं को जो भी विद्यार्थी पूरा करता है, उसे इस कोर्स में प्रवेश मिल जाता है। इस मास्टर डिग्री कोर्स में जो भी योग्यताएं प्रवेश के दौरान आवश्यक होती हैं उनका विवरण नीचे दिया गया है।

  • विद्यार्थी के पास स्नातक डिग्री के रूप में बीएफ ए कोर्स की डिग्री होना आवश्यक है।
  • स्नातक डिग्री में विद्यार्थी के कम से कम 50% अंक होने आवश्यक होते हैं। कुछ कॉलेज में यह सीमा इससे भी कम हो सकती है।
  • फाइन आर्ट्स से संबंधित विषयों में बीए स्नातक डिग्री के पश्चात भी इस मास्टर डिग्री में प्रवेश दिया जाता है।
  • कुछ प्रतिष्ठित तथा सरकारी कॉलेज इस डिग्री के लिए प्रवेश परीक्षा आयोजित करते हैं।
  • अन्य सभी कॉलेज स्नातक डिग्री में प्राप्त अंकों के आधार पर मेरिट लिस्ट तैयार कर उसके अनुसार प्रवेश प्रदान करते हैं।

एमटेक कोर्स क्या है ? इसके सब्जेक्ट , योग्यता और फीस सम्बन्धी जानकारी

एमएफए के लिए एंट्रेंस एग्जाम –

वर्तमान सत्र में इस मास्टर डिग्री में प्रवेश प्राप्त करने के लिए कुछ प्रमुख कॉलेजों के द्वारा स्वीकृत प्रवेश परीक्षाओं की समय सारणी नीचे दी गई है।

  • LPUNEST
  • University of Hyderabad Entrance Test
  • JNAFAU Entrance Test
  • BHU PET

प्रवेश हेतु योग्यता और प्रवेश परीक्षा से संबंधित जानकारी के पश्चात MFA Course Duration के बारे में भी जानना आवश्यक है। आगे इस कोर्स से सम्बंधित अन्य जानकारियां दी गई है।

एमएफए कितने साल का कोर्स है –

एमएससी कोर्स में कुल 2 वर्ष का समय लगता है। इस 2 वर्ष के पाठ्यक्रम को कॉलेज के अनुसार सालाना और समेस्टर में विभाजित किया जाता है। समेस्टर के हिसाब से बात करें तो इन 2 वर्षों में कुल 4 सेमेस्टर होते हैं। प्रत्येक सेमेस्टर 6 महीने का होता है तथा प्रत्येक सेमेस्टर के पश्चात परीक्षा भी आयोजित की जाती है।

फाइन आर्ट्स में रुचि रखने वाले विद्यार्थी जो इस कोर्स को करना चाहते हैं, वह यह अवश्य जानना चाहते हैं कि एमएससी कितने साल का कोर्स है । जानकारी के लिए बता दें वैसे तो इस कोर्स की अवधि सिर्फ 2 वर्ष होती है। लेकिन प्रतिष्ठित या सरकारी कॉलेज में प्रवेश लेने के लिए  प्रवेश परीक्षा देनी होती है। उस प्रवेश परीक्षा की तैयारी करने में भी कुछ माह का समय लगता है। उस समय को इन 2 वर्ष के पाठ्यक्रम के साथ जोड़ा जाए तो ऐसा कहा जा सकता है कि इस मास्टर डिग्री को 2 वर्ष से लेकर 2.5 वर्ष में पूरा किया जा सकता है।

एमबीए कोर्स क्या है ? इसके सब्जेक्ट , योग्यता और फीस सम्बन्धी जानकारी

एमएफए की फीस कितनी है –

एमएफए कोर्स फीस पूरी तरह से शिक्षण संस्थान के द्वारा विद्यार्थी को प्रदान की जाने वाली सुविधाओं पर निर्भर करती है। हर कॉलेज का पाठ्यक्रम दूसरे शिक्षण संस्थान से भिन्न होता है। तथा कॉलेज की सुविधाएं भी अन्य कॉलेज से अलग होती हैं। इस प्रमुख वजह से प्रत्येक कॉलेज में एमएफए कोर्स फीस अलग-अलग होती है। ऊपर बताए गए कारणों की वजह से एमएससी कोर्स फीस का कोई एक आंकड़ा बता पाना आसान कर नहीं है। लेकिन अनुमान लगाने के लिए कॉलेजों की फीस की औसत निकाली जा सकती है। MFA Course Details Hindi

एमएससी कोर्स फीस लगभग ₹20000 से लेकर ₹200000 तक होती है। जिसमें सरकारी कॉलेज में यह फीस लगभग ₹10000 से लेकर ₹30000 तक होती है। वही प्राइवेट कॉलेजों में यह फीस ₹60000 से लेकर 200000 से भी ऊपर निकल जाती है।

एमएफए कोर्स कितने प्रकार का होता है –

एमएफए कोर्स को अपनी रूचि के अनुसार विभिन्न प्रकार के विषय विशेषज्ञता के साथ किया जा सकता है। प्रत्येक विषय विशेषज्ञता में कुछ मुख्य विषय होते हैं। जिनमें विस्तार पूर्वक शिक्षा प्रदान की जाती है। विद्यार्थियों की अधिक जानकारी के लिए नीचे MFA Course की प्रमुख विषय विशेषज्ञता ओं के नाम दिए गए हैं। MFA Course Details Hindi

बीएमएस कोर्स क्या है ? इसके सब्जेक्ट , योग्यता और फीस सम्बन्धी जानकारी

MFA Course Specialization

  • MFA in Applied Arts
  • MFA in Painting
  • MFA in Visual Communication
  • MFA in Art History
  • MFA in Acting
  • MFA in Dance
  • MFA in Creative Writing
  • MFA in Photography
  • MFA in Filmmaking
  • MFA in Design
  • MFA in Textile Design
  • MFA in Pottery and Ceramics
  • MFA in Sculpture

ऊपर बताया कि इन विशेष विषयों के अलावा भी और बहुत सी विशेषज्ञताओं के साथ इस एमएफए कोर्स को किया जा सकता है।

एमएफए का सिलेबस क्या होता है ? MFA Course Details Hindi

एमएफए के पाठ्यक्रम की बात करें तो यह पूरी तरह से कॉलेज की शिक्षा प्रणाली पर निर्भर करता है। साथ ही विद्यार्थी के द्वारा चयन की गई विषय विशेषज्ञता के अनुसार भी पाठ्यक्रम अलग अलग होता है। पाठ्यक्रम में कुछ विषय सभी विशेषज्ञता में एक जैसे होते हैं। जबकि कुछ विषय चयन की गई विशेषज्ञता पर आधारित होते हैं।  उदाहरण के लिए नीचे कुछ प्रमुख अनिवार्य तथा वैकल्पिक विषयों के नाम दिए गए हैं

1 . अनिवार्य सब्जेक्ट्स (Compulsory Subjects) –

  • Mechanism of Artistic Perception
  • Aesthetics & Principles of Art Appreciation
  • Principles and Sources of Art
  • History of Indian Art
  • Sociology
  • History of Indian Architecture
  • History of European Art

2 . वैकल्पिक सब्जेक्ट्स (Optional Subjects) :-

  • Photography
  • Acting
  • Illustration
  • Computer Animation
  • Creative Writing

विद्यार्थियों की जानकारी के लिए नीचे हम एमएफए कोर्स के पाठ्यक्रम का विवरण दे रहे हैं। इस विवरण में उन विषयों को दर्शाया गया है, जो अधिकतर कॉलेजों के पाठ्यक्रम में होते हैं। ऊपर बताया गया पाठ्यक्रम से मिलता जुलता पाठ्यक्रम ही सभी शिक्षण संस्थानों में उपलब्ध कराया जाता है।

बी.आर्क कोर्स क्या है ? इसके सब्जेक्ट , योग्यता और फीस सम्बन्धी जानकारी

एमएफए कोर्स के बाद क्या करें MFA Course Details Hindi

फाइन आर्ट्स में मास्टर डिग्री हासिल करने के पश्चात आपके पास भविष्य को सुरक्षित करने के लिए कैरियर विकल्प के रूप में अनेकों ऑप्शन होते हैं। जिसमें इस मास्टर डिग्री के दौरान चयन की गई विषय विशेषज्ञता के अनुसार उसी क्षेत्र में रोजगार प्राप्त किया जा सकता है।

इसके अलावा अग्रिम पढ़ाई हेतु PHD या MPhil जैसी डिग्रियां की जा सकती हैं। साथ ही कंप्यूटर में महारत हासिल करने के लिए पीजीडीसीए एडीसीए जैसे कोर्स किए जा सकते हैं। इसके अलावा मैनेजमेंट में रुचि रखने वाले विद्यार्थियों के लिए पीजीडीएम जैसे डिप्लोमा कोर्स उपलब्ध होते हैं। पीजीडीएम जैसे कोर्स को करके प्रबंधन के क्षेत्र में सुनहरा भविष्य बनाया जा सकता है।

एमएफए कोर्स के बाद जॉब

इस मास्टर डिग्री के माध्यम से आप इस से संबंधित अनेकों प्रकार के जॉब कर सकते हैं  किस क्षेत्र में रोजगार उपलब्ध होता है। उदाहरण के लिए नीचे कुछ प्रमुख रोजगार ओं के नाम दिए गए हैं, जहां पर एमएफए कोर्स को पूरा करने के पश्चात जॉब प्राप्त की जा सकती है।

  • पटकथा लेखक (Script writer)
  • फर्नीचर डिजाइनर (Furniture Designer)
  • स्वतंत्र कार्यकर्ता (Freelance Workers)
  • ग्राफिक डिजाइनर (Graphic Artist / Designer)
  • संगीत अध्यापक (Music Teacher)
  • प्रोडक्शन कलाकार (Production Artist)
  • वरिष्ठ ग्राफिक डिजाइनर (Senior Graphic Designer)
  • वरिष्ठ कला निर्देशक (Sr. Art Director)
  • कला अध्यापक (Art teacher)
  • कला निर्देशक (Art director)
  • कार्टूनिस्ट (Cartoonist)
  • ग्राफिक डिजाइनर (Graphic designer)
  • अभिनेता (Actor  )
  • चित्रकार (Painter )
  • गायक (Singer)
  • एनिमेटर (Animator)
  • सेट डिजाइनर (Set Designer)
  • कला वार्ताकार (Art Conversator)
  • स्केचिंग कलाकार (Sketching Artist)
  • स्केचिंग आर्टिस्ट एसोसिएट प्रोफेसर (Sketching Artist Associate Professor)
  • कला वार्ताकार (Art conversator)
  • मल्टीमीडिया मास्टर (Multimedia master)
  • 3डी कलाकार (3d Artist)
  • कला समीक्षक (Art Critic)
  • कला अध्यापक (Art Teacher)
  • एनिमेटर (Animator)
  • कला निर्देशक (Art Director)
  • रचनात्मक निर्देशक (Creative Director)
  • ड्राइंग टीचर (Drawing Teacher)
  • संपादक (Editor)

एलएलबी कोर्स क्या है ? इसके सब्जेक्ट , योग्यता और फीस सम्बन्धी जानकारी

विद्यार्थियों की जानकारी के लिए एक बार फिर बता दें, ऊपर बताई गई जॉब्स प्राप्त करने के लिए एमएफए कोर्स में विषयों का चुनाव करते समय इन्हीं जॉब से संबंधित विषयों का चुनाव करना आवश्यक होता है। आप विषय विशेषज्ञता में जिन विषयों का चुनाव करेंगे, उन्हीं विषयों से संबंधित क्षेत्र में रोजगार प्राप्त करने में आपको आसानी होगी।MFA Course Details Hindi

एमएफए की सैलरी कितनी होती है ? MFA Course Details Hindi

आप ऊपर जान चुके हैं कि फाइन आर्ट्स में मास्टर डिग्री हासिल करने के पश्चात कैरियर कैरियर ऑप्शन के रूप में विभिन्न प्रकार की जॉब प्राप्त की जा सकती हैं। उन सभी Jobs में कार्य के हिसाब से अलग-अलग मात्रा में वेतन प्राप्त होता है। इस डिग्री पर आधारित जॉब्स विभिन्न प्रकार के क्षेत्रों में होती हैं। तथा उन सभी जॉब्स में सैलरी भी एक समान नहीं होती है इसलिए एमएफए सैलेरी का कोई एक आंकड़ा बता पाना आसान नहीं है।

MFA Salary in India: अनुमान लगाने के लिए अगर औसतन सैलरी निकाली जाए तो भारत में फाइन आर्ट्स में मास्टर डिग्री हासिल करने के पश्चात रोजगार के रूप में ₹4,50,000 से लेकर ₹6,00,000 तक प्रतिवर्ष सैलरी प्राप्त की जा सकती है। कुछ नौकरियां ऐसी भी होती हैं जहां पर ₹50,000 प्रति महीना से लेकर ₹80,000 प्रति महीना तक तनख्वाह हासिल की जा सकती है। वहीं विदेशों में इस डिग्री तथा अपने हुनर के साथ भारत से अधिक कमाई की जा सकती है। विदेशों में फाइन आर्ट्स को अत्यधिक महत्व दिया जाता है। इसलिए अधिकतर विद्यार्थी इस डिग्री के पश्चात विदेशों में जाकर नौकरी करना पसंद करते हैं।

Top MFA Colleges in India

  • LPU Jalandhar – Lovely Professional University
  • BHU Varanasi – Banaras Hindu University
  • JMI New Delhi – Jamia Millia Islamia
  • DBRAU Agra – Dr BR Ambedkar University
  • KK University, Nalanda
  • Kavikulguru Kalidas Sanskrit University, Nagpur
  • ITM University, Gwalior
  • Amity University, Kolkata
  • Swami Vivekanand University, Sagar
  • Noida International University, Greater Noida
  • Rabindra Bharati University, Kolkata
  • BU Jhansi – Bundelkhand University
  • Mumbai University – University of Mumbai
  • University of Hyderabad, Hyderabad

बी.सी.ए कोर्स क्या है ? इसके सब्जेक्ट , योग्यता और फीस सम्बन्धी जानकारी

ऊपर दी गई इन शिक्षण संस्थानों के अलावा भी और बहुत से यूनिवर्सिटी और कॉलेज हैं। जहां पर फाइन आर्ट्स की मास्टर डिग्री की उच्च स्तरीय शिक्षा प्राप्त की जा सकती है। हमारा यह आर्टिकल फाइन आर्ट्स से संबंधित शिक्षा के कोर्स एमईपी कोर्स डिटेल्स इन हिंदी पर आधारित था। जो अब यही पर समाप्त हो रहा है। MFA Course Details Hindi

यदि आपको यह What is MFA ? Information related to its subjects, qualifications and fees in Hindi की जानकारी पसंद आई या कुछ सीखने को मिला , तब कृपया इस पोस्ट को Social Networks जैसे कि Facebook , Twitter और दुसरे Social Media Sites पर Share कीजिये |

You might also like
Leave a comment